रोहित शर्मा की एक गलती से हारी मुंबई और साथ ही टुटा दिल्ली का प्लेऑफ का सपना | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

रोहित शर्मा की एक गलती से हारी मुंबई और साथ ही टुटा दिल्ली का प्लेऑफ का सपना 

रोहित शर्मा की एक गलती से हारी मुंबई और साथ ही टुटा दिल्ली का प्लेऑफ का सपना

हैदराबाद, 8 मई (आईएएनएस)| सनराइजर्स हैदराबाद ने एक बार फिर अपने घर में एकतरफा प्रदर्शन करते हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के 48वें मैच में सोमवार को मुंबई इंडियंस जैसी मजबूत टीम को सात विकेट से मात दी। उप्पल के राजीव गांधी स्टेडियम में घरेलू दर्शकों के बीच खेल रही सनराइजर्स ने पहले मुंबई के मजबूत बल्लेबाजी क्रम को बड़ा स्कोर करने से रोकते हुए निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 138 रनों पर सीमित किया। इसके बाद इस आसान से लक्ष्य को 18.2 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया।

मेजबान टीम को शिखर धवन (नाबाद 62) ने अर्धशतकीय पारी खेल और दूसरे विकेट लिए मोएजिज हेनरिक्स (44) के साथ 91 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई। धवन ने अपनी पारी में कुल 46 गेंदें खेलीं और चार चौके तथा दो छक्के लगाए। धवन मैन ऑफ द मैच बने।  हार के बाद भी ऐसा रिकॉर्ड अपने नाम कर गए डेविड वार्नर जो आज तक कोहली और रोहित शर्मा नहीं आज तक नहीं कर सके

इस जीत के साथ ही हैदराबाद ने आठ टीमों की अंकतालिका में चौथे स्थान पर अपनी स्थिति मजबूत कर ली है। हालांकि प्लेऑफ में जाने की उसकी राह में किंग्स इलेवन पंजाब रोड़ा बना सकता है। अगर पंजाब अपने बाकी के तीनों मैच बड़े अंतर से जीत जाता है और हैदराबाद को अपने अगले मैच में हार मिलती है तो यह हैदराबाद के लिए दिक्कत खड़ी कर सकता है।

वहीं हैदराबाद की इस जीत के बाद दिल्ली डेयरडेविल्स प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो गई है। दिल्ली अगर अपने बाकी के बचे तीनों मैच जीत भी जाता है तो भी वह प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाएगा।

बहरहाल, मामूली से लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद को हालांकि अच्छी शुरुआत नहीं मिली। शानदार फॉर्म में चल रहे उसके कप्तान डेविड वार्नर (6) को दूसरे ओवर की पहली गेंद पर मिशेल मैक्लेघन ने पगबाधा कराया।

धवन और हेनरिक्स की जोड़ी ने लक्ष्य को देखते हुए बिना किसी जोखिम के पारी को आगे बढ़ाया और मुंबई के जल्दी विकेट लेने के इरादों पर पानी फेर दिया। यह दोनों धीरे-धीरे मेजबान टीम को लक्ष्य के करीब ले गए।

हेनरिक्स अपना अर्धशतक पूरा नहीं कर पाए और छह रन पहले जसप्रीत बुमराह की गेंद पर मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा के हाथों लपके गए। उन्होंने 35 गेंदों की पारी में छह चौके मारे। वह 98 के कुल स्कोर पर आउट हुए।  सचिन तेंदुलकर के बाद अब इस खिलाड़ी के सामने बीच मैदान में झुके भारत के स्टार ऑल राउंडर युवराज सिंह और जीत लिया सभी का दिल

धवन ने 15वें ओवर की पहली गेंद पर एक रन लेकर अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने इसके लिए 35 गेंदें ली। लसिथ मलिंगा ने इसी ओवर में युवराज सिंह (9) को हार्दिक पांड्या के हाथों कैच करा मेहमान टीम को तीसरी सफलता दिलाई।

विजय शंकर (नाबाद 15) ने अंत में धवन का अच्छा साथ दिया और चौथे विकेट के लिए 28 रन जोड़ टीम को जीत दिलाई।

बल्लेबाजों से पहले हैदराबाद के गेंदबाजों ने अपना दम दिखाया और मुंबई के बल्लेबाजों को खुलकर नहीं खेलने दिया। मेहमान टीम की तरफ से सिर्फ तीन बल्लेबाज ही दहाई का आंकड़ा छू सके जिसमें कप्तान रोहित शर्मा सर्वोच्च स्कोरर रहे। रोहित ने 45 गेंदों में दो छक्के और छह चौकों की मदद से 67 रनों की पारी खेली।

मेजबान टीम के सबसे सफल गेंदबाज सिद्धार्थ कौल रहे। उन्होंने चार ओवरों में 24 रन देकर तीन विकेट लिए। अफगानिस्तान के मोहम्मद नबी ने चार ओवरों में सिर्फ 13 रन खर्च किए और लेंडल सिमंस का अहम विकेट लिया। भुवनेश्वर कुमार को दो विकेट मिले।

दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ पिछले मैच में आतिशी पारी खेलने वाले सिमंस (1) दूसरे ओवर में ही पवेलियन लौट गए। इस आईपीएल में मुंबई के कई नायाब पारियां खेलने वाले युवा बल्लेबाज नीतीश राणा सिर्फ नौ रनों का योगदान दे सके। दूसरे सलामी बल्लेबाज पार्थिव पटेल (23) को अच्छी शुरुआत मिली लेकिन वह इसे आगे नहीं ले जा पाए और कौल ने उन्हें अपना शिकार बनाया।

यह तीनों बल्लेबाज 36 के कुल स्कोर तक पवेलियन लौट चुके थे। मुंबई की टीम संकट में थी। ऐसे में कप्तान रोहित ने हार्दिक पांड्या (15) के साथ मिलकर टीम को संभाला और चौथे विकेट के लिए संयम के साथ खेलते हुए 8.1 ओवर में 60 रन जोड़े। अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान की गेंद पर हार्दिक, हेनरिक्स को कैच देकर पवेलियन लौट गए।   हर्षा भोगले ने किया इस साल की अपनी बेस्ट आईपीएल 11 का ऐलान, धोनी, विराट और रोहित शर्मा को नहीं मिली जगह

रोहित ने इसके बाद केरन पोलार्ड के साथ मिलकर 30 रन टीम के खाते में डाले। कौल ने 19वें ओवर की पहली गेंद पर रोहित को बोल्ड कर उनकी पारी का अंत किया। मुंबई की उम्मीदें पोलार्ड से थीं लेकिन अंतिम ओवर में भुवनेश्वर ने उन्हें आउट कर मुंबई को बड़ा झटका दिया।

भुवनेश्वर ने इस ओवर में कर्ण शर्मा (5) को भी पवेलियन भेजा और महज छह रन खर्च किए। आखिरी के पांच ओवरों में मुंबई की टीम सिर्फ 39 रन बना सकी जबकि उसने इस दौरान तीन विकेट खोए।

टॉस जीतकर रोहित शर्मा ने पहले बल्लेबाज़ी का फैसला किया और कप्तान का यही निर्णय उनपर भारी पड़ गया, रोहित शर्मा को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज़ विकेट पर टिक नहीं सका और पूरी टीम 138 रन ही बना सकी. हैदराबाद ने शिखर धवन के शानदार अर्धशतक के दम पर मैच में आसानी से जीत हासिल की.

इस जीत के साथ ही, दिल्ली डेयरडेविल्स का आईपीएल सफ़र भी ख़त्म हुआ और अब प्लेऑफ की जंग, पंजाब, कोलकाता, हैदराबाद और पुणे के बीच है.

Related posts