बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन को अभी भी है भारत के खिलाड़ियों के बीपीएल में खेलने का भरोसा 1

पूरे क्रिकेट जगत में इस समय तो अलग-अलग दर्जनों भर टी20 क्रिकेट लीग शुरू हो चुकी हैं। इन टी20 क्रिकेट लीगों में दुनिया भर के क्रिकेटर खेलते नजर आते हैं लेकिन भारतीय क्रिकेटर अभी भी इन बाहर की टी20 क्रिकेट लीग से दूर ही रहते हैं क्योंकि उन्हें बीसीसीआई से अनुमति नहीं हैं।

भारतीय क्रिकेटर नहीं खेलते हैं दूसरे देशों की टी20 लीग

वैसे भारतीय क्रिकेट टीम से रिटायर हो चुके युवराज सिंह और पूर्व तेज गेंदबाज मनप्रीत गोनी इसी साल कनाडा में खेली गई ग्लोबल टी20 कनाडा लीग में खेलते नजर आए थे।

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन को अभी भी है भारत के खिलाड़ियों के बीपीएल में खेलने का भरोसा 2

लेकिन इन दोनों खिलाड़ियों के अलावा आईपीएल या अपने देश से बाहर की किसी भी टी20 लीग में भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी खेलते नहीं दिखायी पड़ते हैं क्योंकि बीसीसीआई अपने जैसी किसी लीग के खिलाफ हैं।

बीसीबी चाहती है भारतीय खिलाड़ी खेले बीपीएल

युवराज सिंह और मनप्रीत गोनी की तरह ही भारत के गेंदबाज हरभजन सिंह और इरफान पठान ने भी इंग्लैंड में अगले साल खेली जाने वाली हन्ड्रेड लीग में नाम तो दिया था लेकिन भारतीय क्रिकेट में सक्रिय होने के कारण वापस ले लिया।

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन को अभी भी है भारत के खिलाड़ियों के बीपीएल में खेलने का भरोसा 3
बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन को अभी भी है भारत के खिलाड़ियों के बीपीएल में खेलने का भरोसा 4

ऐसे में ये तो बहुत ही मुश्किल है कि भारतीय खिलाड़ी किसी बाहर की टी20 लीग में खेले। लेकिन बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड चाहता है कि भारत के लिए नहीं खेल रहे खिलाड़ी तो उनकी बांग्लादेश प्रीमियर लीग में खेले और वो इसके लिए अपनी इच्छा भी जता रहे हैं।

नजमुल हसन को है भारतीय खिलाड़ियों के खेलने का विश्वास

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन ने एक बार फिर से बीपीएल में भारतीय क्रिकेटरों के हिस्सा लेने को लेकर कहा कि “हमने उन भारतीय खिलाड़ियों को लाने का प्रस्ताव रखा है जो अपने बोर्ड के अनुबंध से बाहर हैं। वे सैंद्धांतिक रूप से खेल सकते हैं।”

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन को अभी भी है भारत के खिलाड़ियों के बीपीएल में खेलने का भरोसा 5

नजमुल हसन ने आगे कहा कि” मुझे यकिन नहीं है कि हम उन्हें बीपीएल में हासिल करेंगे, लेकिन उम्मीद है कि हम उन्हें भविष्य में हासिल करेंगे। इस बीपीएल में भी उनके लिए कोशिश करेंगे।