बीसीसीआई ने किया रणजी ट्रॉफी नहीं करवाने का फैसला, अब उठा सवाल 1

कोविड महामारी की वजह से इंटरनेशनल क्रिकेट और रणजी ट्रॉफी सहित घरेलू क्रिकेट को काफी नुकसान हुआ। कोविड की वजह से महीनों तक क्रिकेट के बंद होने के बाद पिछले दिनों क्रिकेट दोबारा पटरी पर लौटा। इसी क्रम में बीसीसीआई ने पिछले दिनों यह ऐलान किया था कि, जनवरी 2021 से भारत के घरेलू मैदानों पर भी क्रिकेट की वापसी होगी।

पहले सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का आयोजन हुआ, उम्मीद थी की रणजी ट्रॉफी भी खेली जाएगी। लेकिन फिलहाल आ रही खबरों के मुताबिक इस साल रणजी ट्रॉफी का आयोजन नहीं होगा।

रणजी ट्रॉफी हुआ रद्द

रणजी ट्रॉफी

बीसीसीआई ने ऐलान किया है की भारत के घरेलू क्रिकेट का सबसे बड़ा टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी का आयोजन इस साल नहीं होगा। बीसीसीआई ने कोविड महामारी की वजह से यह फैसला लिया है। हालांकि बीसीसीआई ने बताया है कि देवधार ट्रॉफी का आयोजन करवाया जा सकता है।

बीसीसीआई के इस निर्णय पर काफी फैंस ने सवाल उठाया। कुछ लोगों का मानना था कि बीसीसीआई आईपीएल की तैयारी कर सकती है। जबकि रणजी ट्रॉफी का आयोजन नहीं करवा सकती है। वहीं कुछ लोग ऐसे थे जो की बीसीसीआई के इस फैसले समर्थन किए।

बीसीसीआई के फैसले पर उठे सवाल