बीसीसीआई का यह मुख्य अधिकारी नहीं चाहता था भारत और इंग्लैंड के बीच हो वनडे और टी-20 सीरीज 1

भारत के पूर्व बीसीसीआई सचिव अजय शिर्के नहीं चाहते थे, कि भारत और इंग्लैंड की यह वनडे और टी -20 सीरीज संपन्न हो इस बात का खुलासा डीएनए ने ईमेल के निशान के जरिए किया और सबको हैरान किया है. अजय शिर्के और अनुराग ठाकुर को सर्वोच्च न्यायालय ने सचिव और अध्यक्ष पद से 2 जनवरी को बर्खास्त कर दिया था, उसके बाद से अभी कोई भी इस पद पर नहीं आया है. खेलने गयी भारतीय A टीम चतुष्कोणीय सीरीज, लगे भूकंप के झटके.

पद से बर्खास्त किये जाने के बाद भी अजय शिर्के ने भारत और इंग्लैंड की सीरीज को रोकने के प्रयास किये. इसके बारे में खुद इंग्लैंड वेल्स क्रिकेट के अध्यक्ष गिल्स क्लार्क ने बताया. राजस्थान क्रिकेट संघ ने अपनाई लोढ़ा समिति की सिफारिशें, बीसीसीआई में हो सकती है आईपीएल शुरू करने वाले बड़े नाम की वापसी

क्लार्क ने कहा,

“अजय शिर्के ने मुझे 6 जनवरी को ईमेल किया था और उसमे उन्होंने यह बताया था, कि फंड्स की कमी के कारण इंग्लैंड को भारत में सिक्योरिटी सुरक्षा, रहना, खाना, होटल बिल इन सब चीजों में समस्या आ सकती है. उसके बाद मैंने बीसीसीआई के कार्यकारी अधिकारी राहुल जोहरी से बात की.”

जोहरी ने मेरे ईमेल का जवाब देते हुए कहा,

“सर्वोच्च न्यायालय जल्द ही अधिकारी पद के लिए कुछ करेगा आप परेशान ना हों. टीम की सुरक्षा, रहना, खाना इसमें कोई समस्या नहीं है. हर मैच को सही समय और तारीख के मुताबिक ही कराया जायेगा. हम अपना बेस्ट ही देंगे और आपको कोई शिकायत का मौका नहीं देंगे.”

अजय शिर्के के इस हरकत के बाद कहा जा सकता है, कि कोर्ट ने उनको पद से बर्खास्त करके कोई गलती नहीं की है. शिर्के के हटाये जाने के बाद लोढ़ा समिति के पास 22 राज्य एसोसिएशन संघ की बागडोर उनके हाथों में दे दी गयी है. ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज़ डेविड वार्नर ने निकाला अश्विन और जडेजा का तोड़

अध्यक्ष पद के लिए भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का नाम सबसे आगे चल रहा है और उन्हें अगला बीसीसीआई अध्यक्ष बनाया जा सकता है.