आईपीएल शुरु करने के लिए BCCI ने दी 5 संभावित तारीखें

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

आईपीएल 2020 शुरु करने के लिए बीसीसीआई ने फ्रेंचाइजी को दी 5 संभावित तारीखें 

आईपीएल 2020 शुरु करने के लिए बीसीसीआई ने फ्रेंचाइजी को दी 5 संभावित तारीखें

दुनियाभर में पैर पसार चुके ‘कोरोना वायरस’ ने क्रिकेट को नहीं बक्षा है. तमाम अंतरराष्ट्रीय मैचों के रद्द होने के अलावा बीसीसीआई ने 29 मार्च से शुरु होने वाले आईपीएल की तारीख को 15 अप्रैल तक बढ़ा दिया है. अब 14 मार्च को मुंबई में हुई गवर्निंग काउंसिल मीटिंग में बृजेश पटेल ने सभी 8 फ्रेंजाइजियों के साथ बैठक कर मौजूदा परिस्थितियों पर चर्चा की और 5 संभव तारीखें निकाली हैं.

बीसीसीआई ने दी 5 संभावित तारीखें

कोरोना वायरस

‘कोरोना वायरस’ नाम की महामारी के चलते बीसीसीआई ने 29 मार्च से शुरु होने वाले आईपीएल 2020 को 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया. अब बीसीसीआई व आईपीएल अध्यक्ष बृजेश पटेल ने मौजूदा परिस्थितियों को लेकर सभी 8 फ्रेंचाइजियों से बातचीत की. फ्रेंचाइजियों को पांच संभावित तारीखें दी गई हैं, ये तारीख– 15 अप्रैल, 21 अप्रैल, 25 अप्रैल, 1 मई और 5 मई हैं. 

मौजूदा विकल्पों पर किया जाएगा मंथन

कोरोना वायरस

आईपीएल 2020 में बढ़ती हुई मुश्किलों को देखते हुए बीसीसीआई ने फ्रेंचाइजियों को 5 तारीखें दे दी हैं. मीटिंग खत्म होने के बाद एक बैठक में हिस्सा लेने वाले एक अधिकारी ने न्यू इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कहा,

अतीत में, जब 2009 में आईपीएल साउथ अफ्रीका में स्थानांतरित किया गया था, तो यह 37 दिनों की अवधि में आयोजित किया गया था. इसलिए यदि हम 25 अप्रैल से शुरू करते हैं और इसे मई के अंत तक चलाते हैं, तो हम इसे हटा सकते हैं. लेकिन अगर ऐसा नहीं होता, तो यह योजना बनाना कठिन है कि यह कैसे होगा.

एक विकल्प यह है कि होम-अवे की अवधारणा को टाला जाए और एक-दूसरे को केवल एक बार खेलना है. अन्य विकल्प यह है कि दो समूह बना दिए जाएं. लेकिन दो समूहों में इसे विभाजित करने का विकल्प ज्यादा समर्थन नहीं जुटा पाएगा क्योंकि तब कैलेंडर से कुछ महत्वपूर्ण मुकाबले मिस हो जाएंगे.

विदेशी खिलाड़ियों के बिना आईपीएल होना मुश्किल

कोरोना वायरस

तेजी से फैलते कोरोना वायरस से बचाव हेतु भारत सरकार ने 15 अप्रैल तक सभी वीजा को कैंसिल कर दिया है. इसके चलते आईपीएल में हिस्सा लेने वाले कुल 60 खिलाड़ियों का 15 अप्रैल से पहले भारत आना नामुमकिन हो गया. परिणामस्वरूप आईपीएल की तारीखों को 15 अप्रैल तक आगे बढ़ा दिया गया.

कुछ वक्त पहले ऐसी रिपोर्ट्स आ रही थी कि आईपीएल विदेशी खिलाड़ियों के बिना खेला जा सकता है लेकिन ने यह भी स्पष्ट किया है कि विदेशी क्रिकेटरों की उपस्थिति के बिना आगे बढ़ना बहुत मुश्किल होगा. इसके चलते अब जब तक कोरोना वायरस का निवारण निकलने के बाद भारत सरकार वीजा की गाइडलाइन में बदलाव नहीं करती तब तक इंडियन प्रीमियर लीग का लटका रहना तय लग रहा है.

Related posts