IPL 2021 Posponed : इतनी बड़ी लापरवाही कैसे कर सकती है बीसीसीआई जैसी संस्था, हुआ ये बड़ा खुलासा 1

और फिर वही हुआ जिसका सबको डर था, आईपीएल 2021 (IPL 2021) पर भी कोरोना की दूसरी लहर बड़ा कहर बन कर टूटी. बीते दिन सोमवार को कोलकाता नाइट राइडर्स फ़्रेंचाइज़ी के 2 और चेन्नई सपोर्ट स्टाफ़ के 2 सदस्यों की कोविड रिपोर्ट पॉज़िटिव आने के बाद टूर्नामेंट पर संकट के बादल छाने लगे थे.

बीसीसीआई क्रिकेट फ़ैंस को राहत भरी ख़बर देने के बारे में सोच ही रही थी कि इसके बाद एक बड़ी और बुरी ख़बर ने फिर दस्तक दी. इस बार ख़बर ये थी कि दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के अमित मिश्रा (Amit Mishra) और सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के विकेटकीपर-बल्लेबाज़ ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) की कोरोना रिपोर्ट पॉज़िटिव है.

इस पूरी अफ़रातफ़री के बीच बोर्ड ने लीग को स्थगित करने का फ़ैसला तो ले लिया लेकिन इसी दौरान अब एक बहुत बड़ी लापरवाही की ख़बर भी आईपीएल 2021 (IPL 2021) के हवाले से आ रही है.

फ़्रेंचाइज़ियों की शिकायत जीपीएस डिवाइस ही नहीं कर रही थी काम

IPL 2021 Posponed : इतनी बड़ी लापरवाही कैसे कर सकती है बीसीसीआई जैसी संस्था, हुआ ये बड़ा खुलासा 2

दरअसल, बीसीसीआई (BCCI) ने पिछले साल जब संयुक्त अरब अमीरात में टूर्नामेंट कराया था तो बायो सिक्योर बबल्स में खिलाड़ियों की गतिविधियों पर नज़र बनाए रखने के लिए एक जीपीएस डिवाइस का पहनना अनिवार्य कर दिया था. इस बार आईपीएल 2021 (IPL 2021) के लिए भी हर फ़्रेंचाइज़ी को ऐसी डिवाइस दी गई थी.

इन डिवाइसेज़ को टीम के हर खिलाड़ी और साथ ही सपोर्ट स्टाफ़ को पहनना ज़रूरी था. हाल ही में आई एक ताज़ा और चौंकाने वाली रिपोर्ट में ये खुलास हुआ है कि ये डिवाइस बेहद औसत और निचले दर्जे की हैं. इसी सिलसिले में फ़्रेंचाइज़ियों ने इस मशीन को लेकर ये शिकायत भी की थी कि ये एक जगह से दूसरी जगह जाने पर किसी भी तरह की एक्टिविटी को सही तरीके से ट्रैक नहीं कर रही थी.

डिवाइस में डाटा डिस्क्रीपेंसी को लेकर उठ रहे सवाल

IPL 2021

एक निजी भारतीय अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, कलाई पर बाँधे जाने वाले बैंड जैसी ये डिवाइस ब्लूटूथ के ज़रिए मोबाइल फ़ोन में एक एप से जुड़ी रहती है. जिससे ये पता लगाने में आसानी होती थी कोई सदस्य या खिलाड़ी कहाँ जा रहा है. इसमें सारा रिकॉर्ड दर्ज भी रहता है. इस मशीन को इस्तेमाल करने के मक़सद यही था कि किसी के भी बायोबबल से  बाहर निकलने की गतिविधि को कैप्चर किया जा सके.

बीसीसीआई ने इस FOB डिवाइस को लिया था, लेकिन आईपीएल फ़्रेंचाइज़ियों को इससे कई शिकायतें थी और उन्होंने इसके स्तर पर भी काफ़ी सवाल उठाए थे. अखबार की रिपोर्ट में आईपीएल 2021 (IPL 2021) की एक फ़्रेंचाइज़ी के हवाले से बताया गया है कि वो एक शहर से दूसरे शहर तक गए लेकिन जब इस मशीन में डाटा आया तो इसमें पिछले शहर की गतिविधियों की ही जानकारी थी. दावा ये है कि इस दौरान डिवाइस की बैटरी खत्म हो गई थी.

बीसीसीआई पर लग रहे लापरवाही के आरोप, तैयारियों पर बड़ा सवाल

आईपीएल 2021

जीपीएस डिवाइस में इस तरह की गड़बड़ी आईपीएल 2021 (IPL 2021) को लेकर बीसीसीआई की तैयारियों को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं. ये पूरी स्थिति इसलिए भी हैरान करती है क्योंकि पिछले सीज़न में इस डिवाइस को लेकर किसी भी तरह शिकायत खिलाड़ियों या किसी भी फ़्रेंचाइज़ी की तरफ़ से नहीं की गई थी.

फिलहाल इन सारे मसाइल के उजागर होने के बाद बीसीसीआई की समस्याएं और बढ़ गई हैं क्योंकि एक बार आईपीएल 2021 (IPL 2021) के इस सीज़न को स्थगित करने के बाद दोबारा इसका आयोजन उतना आसान नहीं रहने वाले. जिसकी बड़ी वजह ये है कि इसके बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कैलेंडर बेहद व्यस्त है.

Umesh Sharma

Everything under the sun can be expressed in written form. So, I am practicing the same since the time I hold my consciousness and came to know pen and paper. Apart from being Writer, Journalist or...