अंपायर के साथ भिड़ना शुभमन गिल को पड़ा भारी, बीसीसीआई ने सुनाया सजा 1

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाज शुभमन गिल इन दिनों बुरी तरह से फंसे हुए हैं। भारत के लिए भविष्य के बड़े स्टार बल्लेबाज के रूप में देखे जा रहे शुभमन गिल ने रणजी ट्रॉफी के दौरान अंपायर के साथ जो बर्ताव किया है वो अब उन्हें भारी पड़ता जा रहा है।

अंपायर से बहस करना शुभमन गिल को पड़ा भारी

रणजी ट्रॉफी के चौथे चरण का दौर खत्म हो चुका है लेकिन इस दौर के पहले ही दिन शुभमन गिल ने अंपायर के फैसले को लेकर विरोध जाहिर किया था जिसके बाद अब बीसीसीआई ने गिल पर कार्यवाही की है।

भारतीय टीम

बीसीसीआई ने रणजी ट्रॉफी के चौथे चरण की समाप्ति के तुरंत बाद ही शुभमन गिल के अंपायर के फैसले को लेकर विरोध जताने वाले मामले पर संज्ञान लेते हुए गिल को कड़ी चेतावनी देने के साथ ही पूरी मैच फिस को ही काट लिया गया है।

शुभमन गिल की कटी पूरी मैच फिस, ध्रुव शोरे पर लगा 50 प्रतिशत जुर्माना

बीसीसीआई ने पंजाब के इस युवा खिलाड़ी को अपने किए की सजा देते हुए इस पूरे मैच की फिस को काट लिया तो वहीं दूसरी तरफ उन्होंने दिल्ली के कप्तान ध्रुव शोरे की भी 50 प्रतिशत मैच फिस काटी, जिन्होंने अपनी टीम के साथ वॉक ऑवर किया था।

अंपायर के साथ भिड़ना शुभमन गिल को पड़ा भारी, बीसीसीआई ने सुनाया सजा 2

अंपायर के साथ भिड़ना शुभमन गिल को पड़ा भारी, बीसीसीआई ने सुनाया सजा 3

दिल्ली और पंजाब के बीच रणजी के इस सीजन में खेले गए मैच के पहले ही दिन शुभमन गिल ने अंपायर के फैसले को लेकर विरोध जताया था। अंपायर मोहम्मद रफी के फैसले से शुभमन गिल नाराज हुए और उन पर अंपायर के फैसले के विरोध जताने के दोरान अपशब्द निकालने के भी आरोप लगे।

शुभमन गिल ने आउट देने के बाद अंपायर से की थी जोरदार बहस

दिल्ली के तेज गेंदबाज सुबोध भाटी की गेंद पर शुभमन गिल विकेट के पीछे कैच किए गए अंपायर ने उन्हें आउट करार दिया लेकिन गिल को लगा कि वो आउट नहीं है ऐसे में उन्होंने मुख्य अंपायर मोहम्मद रफी और उनके साथी पश्चिम पाठक के साथ जोरदार बहस की और पैवेलियन जाने से इनकार कर दिया।

अंपायर के साथ भिड़ना शुभमन गिल को पड़ा भारी, बीसीसीआई ने सुनाया सजा 4

जिसके बाद दोनों ही अंपायरों ने आपस में बातचीत करते हुए शुभमन गिल को लेकर फैसले में बदलाव कर नॉटआउट दिया। लेकिन इससे दिल्ली की टीम नाराज हो गई और कप्तान ध्रुव शोरे ने अपनी पूरी टीम के साथ फैसले के विरोध में वॉक ऑवर कर लिया।