जय शाह ने की रणजी खिलाड़ियों पर पैसों की बौछार, अब एक मैच की इतनी मोटी रकम लेंगे घरेलू खिलाड़ी 1

भारतीय क्रिकेट टीम में वैसे तो सेलेक्ट होना जितना मुश्किल माना जाता है उतना ही मुश्किल खुद की जगह को बरकरार रखना होता है। लेकिन टीम इंडिया के स्कॉड में शामिल होने से पहले खिलाड़ी घरेलू टूर्नामेंट के द्वारा अपना प्रदर्शन बेहतर बनाने की कोशिश करते हैं। उनमें रणजी ट्रॉफी को घरेलू खिलाड़ियों के लिए सबसे बड़ा टूर्नामेंट माना जाता है। हालांकि रणजी खिलाड़ियों को मैच के लिए काफी कम पैसा दिया जाता था जिसपर बीसीसीआई (BCCI) ने कुछ सुधार किया है।

रणजी खिलाड़ियों के लिए आया गुड न्यूज

टीम इंडिया के स्कॉड में एंट्री से पहले तक लगभग सभी खिलाड़ी रणजी का हिस्सा होते हैं। टीम इंडिया से जुड़ने के बावजूद खिलाड़ी रणजी टूर्नामेंट में अपना प्रदर्शन दिखाते रहते हैं। हालांकि जितना नेशनल टीम के खिलाड़ियों को पैसा दिया जाता है उसकी अपेक्षा रणजी के खिलाड़ियों की सैलरी काफी कम होती है। हालांकि इस पर बीसीसीआई (BCCI) ने सोच विचार करते हुए उनकी सैलरी में बढ़ोतरी की है।

सैलरी में हुई बढ़ोतरी

BCCI
सैलरी में हुई बढ़ोतरी

बीसीसीआई (BCCI) ने रणजी खिलाड़ियों की सैलरी में बढ़ोतरी करने का निर्णय तो लिया है। अब नये सैलरी सिस्टम के हिसाब से बीसीसीआई 1 दिन के लिए खिलाड़ियों को अब 60,000, एक मैच के लिए 2,40,000 और 1 सीजन की सैलरी 30,00,000 रुपये देगी।

हालांकि ये किसी भी रणजी खिलाड़िय़ों के लिए काफी ज्यादा है। रणजी खिलाड़ियों के सैलरी में बढ़ोतरी पर बीसीसीआई (BCCI) के इस निर्णय से खिलाड़ियों के साथ फैंस भी काफी खुश होंगे।

मालामाल हुए रणजी खिलाड़ी

बीसीसीआई (BCCI) ने भारतीय क्रिकेट टीम के साथ साथ अब रणजी खिलाड़ियों को भी उनकी सैलरी में बढ़ोतरी के साथ मालामाल कर चुकी है। बता दें कि इससे पहले रणजी के प्लेइंग इलेवन खिलाड़ियों को एक दिन के 60,000 रुपये दिये जाते थे वहीं रिजर्व खिलाड़ियों की सैलरी 30,000 रुपये थी।

जिन खिलाड़ियों को खेलने का मौका नहीं दिया जाता था उन्हें 25,000 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से दिया जाता था। वहीं कम अनुभव (0-20 मैचों के अनुभव वाले खिलाड़ी) वाले खिलाड़ियों को 40,000 रुपये का भुगतान किया जाता था।