दिल्ली के 22 खिलाड़ियों को अपनी आयु छिपाने पर बीसीसीआई ने किया निलम्बित

vinay mani tripathi / 01 October 2015

दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (DDCA) को उस समय शर्मशार होना पड़ा, जब बीसीसीआई ने दिल्ली के 22 खिलाडियों को आयु में धोखाधड़ी मामले में निलम्बित करते हुए उन्हें आयु वर्ग टूर्नामेंट में खेलने से मना कर दिया है. और इन सब में दिल्ली के लिए सबसे शर्मनाक बात ये है, कि इस सूचि में नितीश राणा और प्रत्युष सिंह भी शामिल है, जो इससे पहले भी दिल्ली के लिए सीनियर खिलाडियों की आयु वाले टूर्नामेंट में खेल चुके है. जबकि राणा वर्तमान में दिल्ली की रणजी टीम का हिस्सा भी है, जो अपना पहला मैच खेलने के लिए इस समय जयपुर में है.

DDCA को इस मामले में बीसीसीआई खेल विकाश मैनेजर रत्नाकर शेट्टी ने ईमेल कर के ये जानकारी दी, कि उसके 22 खिलाड़ियों को आयु में धोखाधड़ी मामले में निलम्बित किया जा रहा है, इस मामले में दिल्ली के पूर्व क्रिकेटर और कांग्रेस सांसद कीर्ति आजाद ने FIR दर्ज कराया था.

हालाँकि इस बारे में पूछने पर शेट्ठी ने नाराजगी व्यक्त करते हुयें कड़ा जबाब दिया, और कहा: “जाइये DDCA से पूछिये.” जबकि इस मामले में DDCA अध्यक्ष प्रकाश बंसल ने इस बात को स्वीकार किया, कि बीसीसीआई से उन्हें ईमेल प्राप्त हुआ है, जिसमे लिखा है, कि उनके 22 खिलाड़ियों को आयु प्रमाण पत्र में गलत जानकारी देने की वजह से निलम्बित किया जा रहा है. हालाँकि उन्होंने इस बात को भी साफ़ करते हुए कहा, कि भले ही राणा को आयु वर्ग टूर्नामेंट में खेलने से प्रतिबंधित कर दिया गया है, लेकिन इससे उसके रणजी करियर पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा, और वो रणजी मैच खेल सकते है.

इस मामले पर बात करते हुए, कीर्ति आजाद ने कहा, “हाँ, आखिरकार मेरा शक सही निकला, मैंने 12 खिलाड़ियों पर FIR दर्ज कराया था, और MCD से उनके जन्म प्रमाण पत्र निकालकर बीसीसीआई को भेजा था, जैसा की हम सभी जानते है, DDCA भ्रष्टाचार का घर है.”

 

Related Topics