हरभजन सिंह को है किंग्स इलेवन पंजाब के लिए नहीं खेल पाने का मलाल

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स नहीं बल्कि इस टीम से खेलना चाहते थे हरभजन सिंह, अब भावुक होकर कही ये बात 

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स नहीं बल्कि इस टीम से खेलना चाहते थे हरभजन सिंह, अब भावुक होकर कही ये बात

इस आईपीएल ऑक्शन में जबरदस्त उत्साह देखा गया फ्रेंचाइजी में अपने लोकल खिलाड़ियों को लेकर दिलचस्पी देखी गई। जहां युवराज सिंह की किंग्स इलेवन पंजाब की टीम में चयन के साथ ही घर वापसी हुई, तो वहीं दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम ने भी अपने लोकल हीरो गौतम गंभीर को अपनी टीम में शामिल कर घर वापसी करायी।

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स नहीं बल्कि इस टीम से खेलना चाहते थे हरभजन सिंह, अब भावुक होकर कही ये बात 1

भज्जी ने पंजाब केसरी को बताया पंजाब में नहीं खेल पाने का रहेगा मलाल

इन सबके बीच भारतीय टीम के दिग्गज गेंदबाज रहे हरभजन सिंह की भी घर वापसी के चांस तो थे लेकिन पंजाब के रहने वाले हरभजन सिंह में किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने कोई दिलचस्पी नहीं दिखायी। हरभजन सिंह ने पंजाब केसरी को दिए इंटरव्यू में साफ भी कर दिया कि उन्हें पंजाब की टीम में नहीं खेल पाने का मलाल जरूर रहेगा।

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स नहीं बल्कि इस टीम से खेलना चाहते थे हरभजन सिंह, अब भावुक होकर कही ये बात 2

पंजाब केसरी ने भज्जी ने विशेष बात की जिसमें उनसे कई सवाल किए गए जिनका भज्जी ने बड़ी ही सहजता से जवाब दिए।

सवाल- आईपीएल ऑक्शन से पहले दिमाग में क्या चल रहा था?

जवाबगंभीर को दिल्ली डेयरडेविल्स और युवराज की किंग्स इलेवन पंजाब टीम में जब वापसी की खबर मुझे लगी तो पहले ही मन मेरे ख्याल आया था कि ये घर वापसी इन प्लेयर्स के लिए अच्छा समय है। ऐसे में मुझे भी उम्मीद थी कि पंजाब मेरे लिए बोली लगाएगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं। सच कहूं तो मुझे अब तक समझ नहीं आया कि पंजाब टीम ने मुझे क्यों नहीं लिया।ऑक्शन के दौरान भी मैं अंत तक देखता रहा लेकिन किंग्स इलेवन पंजाब की मालकिन प्रिटी जिंटा ने मेरी बोली नहीं लगाई।

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स नहीं बल्कि इस टीम से खेलना चाहते थे हरभजन सिंह, अब भावुक होकर कही ये बात 3

सवाल- क्या आप मानते हैं आपके पास मौका था घर वापसी का?

जवाब- मेरे असल घर में यानि पंजाब में तो हमेशा से ही रहता हूं। रही बात किंग्स इलेवन पंजाब से खेलने की तो इस बार मेरे पास मौका था। मैं पिछले दस साल से मुंबई इंडियंस के लिए खेल रहा था और हमनें भी कई ट्रॉफियां जीतीं और मैं सोच रहा था कि इस बार हमारी घर वापसी हो जाएगी।

पंजाब मेरे लिए बोली लगाएगी। मेरे लिए जरूर जाएंगे लेकिन पंजाब वाले मेरे लिए गए ही नहीं। क्या बात हो गई दोस्तों। क्या मेरी सूरत पसंद नहीं थी(हंसते हुए)। पर सच जानें मैं अंत तक उम्मीद कर रहा था। पर वो तो गए ही नहीं।

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स नहीं बल्कि इस टीम से खेलना चाहते थे हरभजन सिंह, अब भावुक होकर कही ये बात 4

सवाल- क्या आपको इस बात का मलाल है?

जवाबहां बिल्कुल मुझे मलाल है कि जो पंजाब टीम की ऑनर हैं प्रिटी जिंटा के साथ-साथ सारे मालिकों से मुझे मलाल है कि पंजाब टीम में मुझे क्यों नहीं लिया गया।

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स नहीं बल्कि इस टीम से खेलना चाहते थे हरभजन सिंह, अब भावुक होकर कही ये बात 5

सवाल- आप बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रिटी जिंटा के बेहद करीब हैं, इसके बाद भी वापसी नहीं हुई, क्या सोचते हो?

जवाबपहले तो मैं ये बता दूं कि प्रिटी जिंटा के करीब नहीं हूं मैं (हंसते हुए) मैं तो खुद चाह रहा था कि पंजाब के लिए खेलूं, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। कोई बात नहीं। क्रिकेट में ऐसा चलता रहता है। मेरा शुरू से मकसद रहा है कि सिर्फ और सिर्फ क्रिकेट खेलना है वो चाहे पंजाब के लिए चाहे चेन्नई के लिए। बात बड़ी ये है कि देश के लिए खेल रहा हूं।

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स नहीं बल्कि इस टीम से खेलना चाहते थे हरभजन सिंह, अब भावुक होकर कही ये बात 6

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आए तो प्लीज इसे लाइक और शेयर करें।

Related posts

Leave a Reply