भुवनेश्वर कुमार ने कहा ‘अतिरिक्त उछाल’ भारतीय टीम के लिए अच्छा, लेकिन इस चीज को बताई भारत की सबसे बड़ी परेशानी

vineetarya / 31 December 2017

भारतीय टीम और साउथ अफ्रीका की टीम के बीच तीन टेस्ट मैच की सीरीज का पहले मैच केपटाउन के क्रिकेट स्टेडियम में खेला जायेगा.

केपटाउन में होने वाले इस पहले टेस्ट मैच को लेकर व भारतीय क्रिकेट टीम के अभ्यास को लेकर आज भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने एक बड़ा ही रोचक बयान दिया है.

‘अतिरिक्त उछाल’ हमारे गेंदबाजो के लिए अच्छा 

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार का मानना है, कि साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज में ‘अतिरिक्त उछाल’ मिलना अच्छा बदलाव है, लेकिन लाल कुकाबुरा गेंद से गेंदबाजी करना चुनौतीपूर्ण होगा.

भुवनेश्वर ने अपने बयान में कहा, “जब बल्लेबाजों की बात होती है, तो उछाल से निपटना काफी अहम है, गेंदबाजों के लिए भी यह महत्वपूर्ण होता है. कुकाबूरा से गेंदबाजी करना सबसे कठिन है. 25-30 ओवर के बाद यह ज्यादा कुछ नहीं करती, इसलिए हम इस तरह के हालत के अनुसार तैयारी की कोशिश कर रहे है.”

हमारा ध्यान सिर्फ बेसिक्स पर लगा हुआ है

भुवनेश्वर ने आगे अपने बयान में कहा, “तेज गेंदबाजी आक्रमण ने अभी मैच के लिए रणनीति बनाना शुरू नहीं किया है और उनका ध्यान लंबे स्पैल की गेंदबाजी करने में लगा हुआ है. हमने अभी तक योजना के बारे में बात नहीं की है. हमारा ध्यान सिर्फ बेसिक्स पर लगा हुआ है.

हो सकता है पहले टेस्ट के शुरू होने से दो दिन पहले हम ऐसा करेंगे हम देखेंगे, कि बल्लेबाजों के अनुसार कैसे रणनीति बनाये. कल, हमने टेस्ट की लय में आने के लिए दो अभ्यास सत्र किये.

टेस्ट मैच में छह घंटे का खेल होगा इसलिए हमने दो बार गेंदबाजी की हम चाहते थे जहां संभव हो लंबे समय तक गेंदबाजी करे.” 

हम इन हालातों में अच्छा करेंगे

भारतीय टीम ने अभी तक साउथ अफ्रीका में कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है, लेकिन भारतीय टीम पिछले दो सालों से शानदार टेस्ट क्रिकेट खेल रही है भुवनेश्वर ने इस बात को लेकर कहा है, कि मौजूदा भारतीय टीम के पास साउथ अफ्रीका में अपना रिकॉर्ड सुधारने का शानदार मौका है.

उन्होंने कहा, “हर कोई आत्मविश्वास से भरा है हम जानते है, कि हमारे पास साउथ अफ्रीका में सीरीज जीतने का बढ़िया मौका है, लेकिन ऐसा करने के लिए हमें अपना बेस्ट देना होगा. हमने पिछले दो साल में काफी अच्छा किया है और हमें पूरा भरोसा है, कि हम इन हालातों में अच्छा करेंगे.”

आपकों बता दे, कि भारतीय टीम का तेज गेंदबाजी आक्रमण इस सीरीज में काफी शानदार है. भारतीय टीम के पास उमेश यादव, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह जैसे गेंदबाज है.