विराट ने कहा बचपन में नहीं सुनता था बेदी के फिटनेस भाषण तो बेदी ने बोली कोहली को ये बात 1

भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा और आखिरी टेस्ट मैच शनिवार से दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में शुरू होगा। इस टेस्ट मैच से पहले दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में दिल्ली के तमाम दिग्गज क्रिकेटरों का जमावड़ा लगा था।

मौका था दिल्ली एंव जिला क्रिकेट एसोसिएशन के पहले वार्षिक सम्मेलन का… डीडीसीए के इस खास कार्यक्रम में दिल्ली के बड़े-बड़े दिग्गज खिलाड़ियों को आमंत्रित किया गया था।

विराट ने कहा बचपन में नहीं सुनता था बेदी के फिटनेस भाषण तो बेदी ने बोली कोहली को ये बात 2

डीडीसीए के पहले वार्षिक सम्मेलन में जुटे दिल्ली के दिग्गज खिलाड़ी

दिल्ली एंव जिला क्रिकेट एसोसिएशन के पहले वार्षिक सम्मेलन में डीडीसीए ने दिल्ली के बड़े-बड़े खिलाड़ियों को आमंत्रित किया था जिसमें पूर्व भारतीय कप्तान बिशन सिंह बेदी, मोहिंदर अमरनाथ, अजय जडेजा, मनोज प्रभाकर, विजय दहिया, निखिल चोपड़ा, मनिंदर सिंह, मिथुन मन्हास, वीरेन्द्र सहवाग, गौतम गंभीर, आकाश चोपड़ा, रजत भाटिया, विराट कोहली, उन्मुक्त चंद, ईशांत शर्मा और मौजूदा कप्तान ऋषभ पंत शामिल हुए थे। इस दौरान डीडीसीए ने इन खिलाड़ियों को सम्मानित किया था।

विराट ने कहा बचपन में नहीं सुनता था बेदी के फिटनेस भाषण तो बेदी ने बोली कोहली को ये बात 3

विराट कोहली ने मैंने भी पिछले कुछ सालों में सीख ली

इस कार्यक्रम के दौरान भारतीय टीम के महान स्पिन खिलाड़ी रहे बिशन सिंह बेटी ने भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली की जमकर तारीफ की साथ ही बेदी ने विराट कोहली को एक सलाह भी दे डाली।

बिशन सिंह बेटी ने कहा कि

एक क्रिकेटर के तौर पर मैं अब भी सीख रहा हूं। पिछले 3-4 सालों में मैंने जितनी बाते विराट कोहली से सीखीं हैं. वो कल्पना से परे लगती है। मैदान पर किए गए उनके कुछ इशारों से मैं शायद सहमत नहीं हो सकता, लेकिन जिस तरह की इंटेन्सिटी वो दिखाते हैं वो किसी भी अन्य जीवित भारतीय में नहीं दिखती है। मैं उम्मीद करता हूं कि वो इसी तरह से आगे बढ़े।”

विराट ने कहा बचपन में नहीं सुनता था बेदी के फिटनेस भाषण तो बेदी ने बोली कोहली को ये बात 4

विराट ने कहा बचपन में नहीं सुनता था बेदी के फिटनेस भाषण तो बेदी ने बोली कोहली को ये बात 5

विराट कोहली से आज की पीढ़ी सीख सकती है बहुत कुछ

इसके साथ ही बिशन सिंह बेदी ने आगे कहा कि

आज की पीढ़ी विराट से काफी कुछ सीख सकती है। वो आपके बीच का ही एक लड़का है। उनके भी 4 या 6 हाथ नहीं है। वो साक्षात उदाहरण हैं आपके सामने। उन्होंने क्रिकेट को हमेशा अपने से आगे रखा। आप इनसे सीखें। हम जब खेलते थे तो ये चीज हमने नवाब मंसूस अली पटौदी से सीखी थी। मैं गर्व करता हूं कि वो हमारे पहले कप्तान थे। आज ड्रेसिंग रूम की बात को अंदर ही रखने की परंपरा है इस अच्छी परंपरा की नींव नवाब पटौदी ने रखी थी।”

विराट ने कहा बचपन में नहीं सुनता था बेदी के फिटनेस भाषण तो बेदी ने बोली कोहली को ये बात 6

ब्रैडमैन से सीखें ईमानदार होना

साथ ही बेदी साहब ने विराट कोहली को एक सलाह देते हुए कहा कि

आज पेशेवर होने को बैंक बैलेंस से जोड़ा जाता है। मैंने एक बार सर डॉन ब्रैडमैन से पूछा था, कि आप पेशेवर क्रिकेटर क्यों नहीं बने सर डॉन ने कहा कि मैं खेल से मिलने वाले मजे खत्म नहीं करना चाहता। आप किसी भी फिल्ड में जैसे ही पेशेवर बनते हैं तो आपके दिमाग में कुछ ना कुछ तुच्छ विचार आते हैं। मैं वैसा नहीं करना चाहता। सर डॉन को एक बार पूछा गया कि आपको लोग किस तरह याद रखें, इसको एक शब्द में बयां करें तो सर डॉन ने बगैर एक सैकंड गंवाए कहा कि लोग मुझे मेरी ईमानदारी के लिए याद रखे।

विराट ने कहा बचपन में नहीं सुनता था बेदी के फिटनेस भाषण तो बेदी ने बोली कोहली को ये बात 7

Leave a comment