IPL 2020: मैदान पर ब्लैक बैंड पहनकर क्यों उतरे दिल्ली और चेन्नई के खिलाड़ी, जानिए वजह 1

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन का 7वां मैच दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स (डीसी) के बीच आज 25 सितंबर को खेला जा रहा है. इस मैच में श्रेयस अय्यर और महेंद्र सिंह धोनी आमने सामने हैं. मैच का टॉस महेंद्र सिंह धोनी ने जीता और गेंदबाजी का फैसला किया है.

हालाँकि इस दौरान जो सबसे ध्यान देने वाली बात थी वो यह कि मैच में दोनों टीमों के खिलाड़ी अपनी अपनी भुजाओं पर काली पट्टी क्यों पहने हुए थे. हम आपको इसका कारण बताते हैं.

इस कारण पहना है ब्लैक बैंड कारण

IPL 2020: मैदान पर ब्लैक बैंड पहनकर क्यों उतरे दिल्ली और चेन्नई के खिलाड़ी, जानिए वजह 2

दरअसल कल ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर और मौजूदा कमेंटेटर डीन जोन्स का निधन हो गया था. वहीं आज चेन्नई के जाने माने सिंगर बाला सुब्रमण्यम की भी मौत हुई है.  जिसके कारण सभी खिलाड़ी इन दोनों दिग्गजों को सम्मान देने के लिए मैच में काली पट्टी पहनकर मैदान में उतरे हैं.

आपको बता दें कि डीन जोन्स की मौत दिल का दौरा पड़ने के कारण हुयी थी. जबकि बाला सुब्रमण्यम की मौत कोरोना संक्रमित होने के चलते हुई है.

बाला सुब्रमण्यम मैंने प्यार किया मूवी में दे चुके हैं अपनी आवाज

IPL 2020: मैदान पर ब्लैक बैंड पहनकर क्यों उतरे दिल्ली और चेन्नई के खिलाड़ी, जानिए वजह 3

74 साल के एस. पी बालासुब्रह्मण्यम ने हिंदी फिल्मों की गायिकी में भी अपनी एक अलग पहचान स्थापित की. 1989 में आई सलमान खान-भाग्यश्री स्टारर की सुपरहिट फिल्म ‘मैंने प्यार किया’ में सलमान खान के सभी गाने एसपी बालासुब्रह्मण्यम ने गाये थे, जो सुपरहिट साबित हुए थे.

IPL 2020: मैदान पर ब्लैक बैंड पहनकर क्यों उतरे दिल्ली और चेन्नई के खिलाड़ी, जानिए वजह 4

उसके बाद उन्होंने सलमान के करियर के शुरुआती दिनों के सभी गाने गाये और कई सालों तक सलमान खान की आवाज के तौर पर भी जाना जाता रहा. इसके बाद भी एस. पी. बालासुब्रह्मण्यम ने कई हिंदी फिल्मों में विभिन्न सितारों के लिए अपनी आवाज दी.

माना जाता है कि एसपी बालासुब्रह्मण्यम ने अब तक कुल 16 भाषाओं में 40,000 से भी ज्यादा गाने गाये हैं और उन्हें चार भाषाओं – तेलुगू, तमिल, कन्नड़ और हिंदी गानों के लिए 6 बार सर्वश्रेष्ठ गायक के तौर पर राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा जा चुका है. उन्हें भारत सरकार की ओर से 2001 में पद्मश्री और 2011 में पद्मभूषण पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है.

दिग्गज क्रिकेटर थे डीन जोन्स

IPL 2020: मैदान पर ब्लैक बैंड पहनकर क्यों उतरे दिल्ली और चेन्नई के खिलाड़ी, जानिए वजह 5

वहीं ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर डीन जोन्स की बात करें तो जोन्स ने इंटरनैशनल क्रिकेट में डेब्यू 1984 में किया था. उन्होंने अपने करियर में कुल 52 टेस्ट और 164 वनडे इंटरनैशनल मैच खेले हैं. डीन जोन्स ने अपने करियर में टेस्‍ट क्रिकेट में दो दोहरे शतक जड़े थे, जिसमें भारत के खिलाफ चेन्‍नई में साल 1986 में खेली गई 210 रन की पारी शामिल है.

बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से लीग का मौजूदा सत्र देश से बाहर संयुक्त अरब अमीरात में खेला जा रहा है. इस बार वह आईपीएल में मुंबई से कॉमेंट्री कर रहे थे. जोन्स इस बार आईपीएल कॉमेंट्री पैनल का हिस्सा था, जिसमें ब्रेट ली, ब्रायन लारा, ग्रीम स्वान और स्कॉट स्टायरिस मुंबई से कॉमेंट्री कर रहे हैं.