न्यूजीलैंड के इस गेंदबाज के सामने हमेशा फिसड्डी साबित होते चेतेश्वर पुजारा, WTC फाइनल में भी बन सकता खतरा 1
चेतेश्वर पुजारा टेस्ट क्रिकेट में भारतीय क्रिकेट टीम की रीढ़ की हड्डी है. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में भारतीय टीम को कई मैच जीताए हैं. ऑस्ट्रेलिया 2018-19 में भी उन्होंने भारत की सीरीज जीत में अहम भूमिका निभाई थी और ‘मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट’ का ख़िताब जीता था. WTC फाइनल में भी इस बल्लेबाज के कंधो पर बड़ी जिम्मेदारी होगी.

ट्रेंट बोल्ट के खिलाफ संघर्ष करते चेतेश्वर पुजारा

न्यूजीलैंड के इस गेंदबाज के सामने हमेशा फिसड्डी साबित होते चेतेश्वर पुजारा, WTC फाइनल में भी बन सकता खतरा 2

चेतेश्वर पुजारा और ट्रेंट बोल्ट का अबतक 17 पारियों में सामना हुआ है और बाएं हाथ का ये तेज गेंदबाज 4 बार इस बल्लेबाज को आउट करने में कामयाब रहा है. पुजारा ने बोल्ट के खिलाफ 299 गेंदों में 133 रन बनाए हैं और उनका औसत 33.25 रहा है. पुजारा ने 4 बार बोल्ट को विकेट दिया है. साल 2020 में भारत के खिलाफ 2 टेस्ट मैचों की सीरीज में ट्रेंट बोल्ट ने टीम इंडिया को काफी परेशान किया था. बोल्ट ने 2 मैचों में 11 विकेट अपने नाम किये थे और उन्होंने 2 बार पुजारा को भी आउट किया था. पुजारा दोनों ही बार बोल्ड हुए थे.

WTC फाइनल में भी बोल्ट हो सकते पुजारा के लिए खतरा

न्यूजीलैंड के इस गेंदबाज के सामने हमेशा फिसड्डी साबित होते चेतेश्वर पुजारा, WTC फाइनल में भी बन सकता खतरा 3 इस वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में चेतेश्वर पुजारा का रिकॉर्ड बेहद खराब रहा है. वह महज 29.21 की औसत से 818 रन बना पाए हैं. पुजारा ने जनवरी 2019 के बाद से शतक नहीं लगाया है और साथ ही वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में वो 3 बार 0 पर आउट हो चुके हैं. साफ है पुजारा इस वक्त खराब फॉर्म में हैं और ट्रेंट बोल्ट फाइनल में उनके लिए सबसे बड़ा खतरा साबित हो सकते हैं.

न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को थकाने का काम पुजारा का

न्यूजीलैंड के इस गेंदबाज के सामने हमेशा फिसड्डी साबित होते चेतेश्वर पुजारा, WTC फाइनल में भी बन सकता खतरा 4 WTC के फाइनल में भी इस खिलाड़ी के पास नंबर-3 की जिम्मेदारी होगी और ऐसे में उन्हें एक छोर पकड़कर खेलना होगा और न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को थकाना होगा. हालांकि अगर पुजारा न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को थकाने में कामयाब नहीं हो पाते हैं, तो तरोताजा किवी गेंदबाज अन्य भारतीय बल्लेबाजों को परेशान कर सकते हैं. ऐसे में पुजारा का चलना WTC फाइनल में बेहद जरुरी है. चेतेश्वर पुजारा अब तक भारतीय टीम के लिए कुल 85 टेस्ट मैच खेल चुके हैं, जिसमे उन्होंने 46.6 की औसत से कुल 6244 रन बनाए हुए हैं.

cricket is my first and last love, I know cricket only cricket, I love watching cricket because cricket is my passion and my passion is my work my favourite player Mike Hussey and Kl Rahul