आईपीएल 2021- फाइनल मैच में केकेआर की हार के बाद भी कोच ब्रैंडन मैकुलम ने मॉर्गन और टीम को कही ये बात 1

इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स ने खिताब पर कब्जा किया। शुक्रवार को दुबई में खेले गए खिताबी मुकाबले में कोलकाता नाइट राईडर्स को चेन्नई सुपर किंग्स ने 27 रनों से हराने के साथ ही चौथी बार इस टाइटल को अपने नाम किया। तो वहीं केकेआर की टीम का खिताबी हैट्रिक करने का सपना टूट गया।

केकेआर का खिताबी हैट्रिक का टूटा सपना

आईपीएल के इस सीजन में केकेआर की टीम ने जिस अंदाज में यूएई में प्रदर्शन किया उसे देखकर हर किसी को खिताबी मुकाबला रोमांचक होने की उम्मीद की थी। लेकिन केकेआर ने यहां आखिरी वक्त में हथियार डाल दिए और मैच को आसानी से गंवा दिया।

आईपीएल 2021- फाइनल मैच में केकेआर की हार के बाद भी कोच ब्रैंडन मैकुलम ने मॉर्गन और टीम को कही ये बात 2

कोलकाता नाइट राईडर्स पिछले कुछ मैचों से लक्ष्य का पीछा करती आ रही थी, ऐसे में उन्होंने यहां भी टॉस जीतने के बाद पहले फील्डिंग करने का फैसला किया। लेकिन सीएसके ने 192 रनों का स्कोर खड़ा किया। जिसके जवाब में केकेआर 165 रन ही बना सका।

हार के बाद भी केकेआर की वापसी पर खुश हैं मैकुलम

कोलकाता नाइट राईडर्स ने इस खिताबी जंग में तो हार का सामना किया और तीसरी बार चैंपियन बनने के मौके से चूक गई। लेकिन इस सीजन में जिस तरह से केकेआर ने वापसी की उसे हमेशा याद किया जाएगा। क्योंकि पहले फेज में केकेआर की टीम फुस्स रही थी।

आईपीएल 2021- फाइनल मैच में केकेआर की हार के बाद भी कोच ब्रैंडन मैकुलम ने मॉर्गन और टीम को कही ये बात 3

केकेआर के कोच ब्रैंडन मैकुलम ने अपनी टीम की मानसिकता में ही परिवर्तन कर दिया। केकेआर ने यूएई में कमाल का प्रदर्शन करते हुए प्लेऑफ में प्रवेश किया तो साथ ही प्लेऑफ के भी दोनों मैच जीतकर फाइनल मैच में जगह बनायी। इसी कारण से इस हार के बाद भी केकेआर के कोच ब्रैंडन मैकुलम काफी खुश हैं।

ब्रैंडन मैकुलम ने की अपनी टीम केकेआर की तारीफ

कोलकाता नाइट राईडर्स के मुख्य कोच ब्रैंडन मैकुलम ने मैच के बाद कहा कि

“सभी खिलाड़ियों ने जिस तरीके का खेल दिखाया उस पर हमें बहुत गर्व है। सुपर किंग्स और उनके टीम मैनेजमेंट को बधाई। ये एक अदभुत यात्रा थी।”

आईपीएल 2021- फाइनल मैच में केकेआर की हार के बाद भी कोच ब्रैंडन मैकुलम ने मॉर्गन और टीम को कही ये बात 4

“कुछ चीजें ऐसी रहीं जो हम लंबे समय तक याद रख सकते हैं। जब आप फाइनल में आते हैं, हमेशा एक भावना होती है कि क्या होगा। जिस तरह से खिलाड़ियों ने प्रदर्शन किया – विशेष रूप से युवा भारतीय खिलाड़ियों ने वो अद्भुत था”