ब्रेंडन मैकुलमने वीवीएस लक्ष्मण की 281 रनों की पारी को बताया सबसे श्रेष्ठ

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सचिन, कोहली या धोनी नहीं, बल्कि इस भारतीय खिलाड़ी की पारी को आज भी स्टेडियम में बैठकर देखना चाहते हैं ब्रेंडन मैकुलम 

सचिन, कोहली या धोनी नहीं, बल्कि इस भारतीय खिलाड़ी की पारी को आज भी स्टेडियम में बैठकर देखना चाहते हैं ब्रेंडन मैकुलम
Brendon McCullum captain of New Zealand waits with his team for the start of the days play during day five of the second cricket Test match between New Zealand and Australia at the Hagley Park in Christchurch on February 24, 2016. / AFP / Marty Melville (Photo credit should read MARTY MELVILLE/AFP/Getty Images)

भारतीय क्रिकेट का इतिहास बहुत ही सुनहरा है। भारतीय क्रिकेट टीम ने अपने इस सफर के दौरान ऐसी कई उपलब्धियों को हासिल किया है जिसकी यादें हमेशा क्रिकेट फैंस के जेहन में ताजा रहती हैं। ऐसी ही सुनहरी यादों की बात करें तो भला वो साल 2001 में मिली कोलकाता टेस्ट की ऐतिहासिक जीत को कैसे भुलाया जा सकता है।

…वो 2001 में कोलकाता में मिली भारतीय क्रिकेट टीम को जीत

कोलकाता के ऐतिहासिक मैदान ईडन गार्डन में मिली टेस्ट जीत भारतीय क्रिकेट टीम के इतिहास में सबसे गौरवशाली पलों में से एक है क्योंकि इस दिन भारत ने उस दौर की नंबर वन टीम ऑस्ट्रेलिया को मात दी थी और वो भी फॉलोऑन जैसी स्थिति से पार पाते हुए।

सचिन, कोहली या धोनी नहीं, बल्कि इस भारतीय खिलाड़ी की पारी को आज भी स्टेडियम में बैठकर देखना चाहते हैं ब्रेंडन मैकुलम 1

 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय टीम की इस जीत ने भारत के क्रिकेट की सूरत ही बदल डाली। उस मैच के बाद भारतीय टीम को विश्व क्रिकेट की एक मजबूत टीम के रूप में नई पहचान मिली।

भारतीय टीम ने हासिल की थी फॉलोऑन के बाद भी बड़ी जीत

जब कभी भी कोलकाता में मिली ऐतिहासिक जीत की बात की जाती है तो भला स्टाइलिश वीवीएस लक्ष्मण की पारी को तो कैसे भुलाया जा सकता है। क्योंकि वो वीवीएस की ही स्पेशल पारी थी जिसके दम पर भारतीय टीम ने जीत हासिल की थी।

सचिन, कोहली या धोनी नहीं, बल्कि इस भारतीय खिलाड़ी की पारी को आज भी स्टेडियम में बैठकर देखना चाहते हैं ब्रेंडन मैकुलम 2

तभी तो न्यूजीलैंड के पूर्व दिग्गज कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज रहे ब्रेंडन मैकुलम ने वीवीएस लक्ष्मण की पारी को याद किया है। यहां पर जब ब्रेंडन मैकुलम से एक सवाल किया कि वो क्रिकेट इतिहास की ऐसी कौनसी पारी है जो स्टेडियम में लाइव देखना पसंद करते।

ब्रेंडन मैकुलम वीवीएस की पारी को करते हैं सबसे ज्यादा पसंद

तो इस पर ब्रेंडन मैकुलम ने जवाब दिया कि

“वीवीएस लक्ष्मण की पारी जिसमें उन्होंने 2001 में पिछड़ने के बाद ऑस्ट्रेलिया को हराया था।”

सचिन, कोहली या धोनी नहीं, बल्कि इस भारतीय खिलाड़ी की पारी को आज भी स्टेडियम में बैठकर देखना चाहते हैं ब्रेंडन मैकुलम 3

जी हां वैरी-वैरी स्पेशल लक्ष्मण ने साल 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता टेस्ट मैच में वो पारी खेली थी जिसे शायद भारत ही नहीं बल्कि क्रिकेट इतिहास की सबसे बेहतरीन और प्रभावशाली पारी में से एक कहा जा सकता है।

वीवीएस लक्ष्मण ने 281 रन की पारी खेल भारत को जीताया था मैच

अब कुछ बात इस मैच की कर लेते हैं जिसमें साल 2001 में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को मात देकर इतिहास रच डाला था। कोलकाता के ईडन गार्डन मैदान में ये मैच 11 से 15 मार्च के बीच खेला गया था। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए पहली पारी में 445 रनों का स्कोर खड़ा किया। जिसके जवाब में भारतीय टीम महज 171 रनों पर आउट हो गई। वीवीएस लक्ष्मण ने पहली पारी में सबसे ज्यादा 59 रनों का योगदान दिया।

सचिन, कोहली या धोनी नहीं, बल्कि इस भारतीय खिलाड़ी की पारी को आज भी स्टेडियम में बैठकर देखना चाहते हैं ब्रेंडन मैकुलम 4

ऑस्ट्रेलिया ने भारत पर 274 रनों की बढ़त बनाने के साथ ही फॉलोऑन के लिए कह डाला। फॉलोऑन के बाद तो भारतीय टीम ने 115 रन तक 3 विकेट खो दिए और यहां पर भारतीय टीम की हार तय नजर आ रही थी क्योंकि ऑस्ट्रेलिया की टीम अपने पूरे फ्लो में दिख रही थी।

निश्चित हार को लक्ष्मण की पारी ने जीत में बदला

लेकिन हैदराबाद के स्टायलिश बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण के इरादें कुछ और ही थे और उन्होंने कोलकाता की इस पिच पर ऐसा खूंटा गाड़ा कि ऑस्ट्रेलिया की गेंदबाजी बेहाल हो गई। वीवीएस लक्ष्मण ने पहले तो सौरव गांगुली के साथ चौथे विकेट के लिए 117 और इसके बाद राहुल द्रविड़ के साथ पांचवें विकेट के लिए 376 रनों की यादगार साझेदारी कर मैच बदल डाला।

सचिन, कोहली या धोनी नहीं, बल्कि इस भारतीय खिलाड़ी की पारी को आज भी स्टेडियम में बैठकर देखना चाहते हैं ब्रेंडन मैकुलम 5

वीवीएस लक्ष्णण के 281 रन और राहुल द्रविड़ के 180 रनों की जबरदस्त पारियों के दम पर भारत ने दूसरी पारी में फॉलोऑन के बाद भी 657 रनों का स्कोर खड़ा कर ऑस्ट्रेलिया को 384 रनों का लक्ष्य दे डाला।

इसके बाद तो भारतीय टीम के गेंदबाजों के जबरदस्त प्रदर्शन के दम पर ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी को 212 रनों के स्कोर पर ढेर कर भारत ने 171 रनोंकी ऐतिहासिक जीत हासिल कर क्रिकेट जगत को बता दिया कि भारत अब इतिहास बदलने को तैयार है।

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।

Related posts