//

209 रनों के पहाड़ जैसे लक्ष्य को आसानी से हासिल करने पर कप्तान करुण नायर ने पंत ही नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को भी दिया जीत का श्रेय

आईपीएल के दसवें सीजन में गुरूवार को 42वें मैच में अंक तालिका में नीचे के पायदान की टीमें गुजरात लॉयंस और दिल्ली डेयर डेविल्स के बीच दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में खेला गया। इस मैच में मेजबान टीम दिल्ली डेयर डेविल्स के कार्यवाहक कप्तान करूण नायर ने टॉस के अपने पाले में गिरने के साथ ही गेंदबाजी करने का फैसला कर लिया।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

ऐसे में पहले बल्लेबाजी करने उतरी गुजरात लॉयंस ने कप्तान सुरेश रैना और दिनेश कार्तिक की विस्फोटक पारी के दम पर अपने निर्धारित 20 ओवर में 208 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। इस पहाड़ जैसे लक्ष्य को दिल्ली डेयर डेविल्स के युवा बल्लेबाज संजू सैमसन और ऋषभ पंत ने एक अलग ही अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए बेहद ही बौना साबित कर दिया। दिल्ली डेयर डेविल्स ने इस टारगेट को तीन विकेट के नुकसान पर 17.3 ओवर में ही हासिल कर लिया। द्रविड़ ने मुझे आत्मविश्वास और परिपक्वता दी, जिसकी मुझे काफी जरूरत थी: करूण नायर

दिल्ली डेयर डेविल्स की इस बेहतरीन जीत में भले ही ऋषभ पंत अपने शतक से चुक गए। ऋषभ पंत ने 43 गेंदो में 97 रन बनाए वहीं संजू सैमसन ने 31 गेंदो में 61 रन की तूफानी पारी खेली।  इस शानदार जीत के बाद दिल्ली के कप्तान करूण नायर काफी खुश दिखाई दिए।

करूण नायर ने मैच जीतने के बाद कहा, कि “ये बहुत ही बेहतरीन प्रदर्शन हैं। ये (पंत-सैमसन) सबसे शानदार साझेदारियों में से एक है, जो मैनें अब तक देखी है। आप योजना नहीं बना सकते जब आप इतने बड़े टारगेट का पीछा करते हो। ऐसे में पहली ही गेंद से इसको लेकर जाना होता है। हम इस बारे में बात की थी, कि बिल्कुल आजादी के साथ खेलना है और असफलता के डर को लेकर चिंता नहीं करनी है। डर को बाहर निकालने के लिए यही सही होता है, कि केवल देखो और मारो। ऐसे में हम खुश हैं, कि हम इसे साबित कर रहे हैं।”भारत के इस दिग्गज खिलाड़ी को है दिल्ली के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद, टीम लगभग प्लेऑफ की दावेदारी से बाहर