रवि शास्त्री को जीत का जश्न मनाते हुए देखकर नाराज हुए भारतीय प्रसंशक, सोशल मीडिया पर किया ट्रोल 1

भारत-साउथ अफ्रीका के बीच टेस्ट श्रृंख्ला खत्म हो चुकी है। आखिरी मैच जीतने के बाद कोच रवि शास्त्री काफी खुश हैं। अब बारी वनडे और टी-20 सीरीज की है। टेस्ट सीरीज में भारत को 2-1 से हार का सामना करना पड़ा था। साउथ अफ्रीका में 25 सालों से सीरीज ना जीत पाने वाली टीम इंडिया से इस बार जीत की उम्मीद थी। ऐसा इसलिए था क्योंकि भारतीय टेस्ट टीम इस वक्त जबरदस्त फॉर्म में थी।

भारतीय टीम पिछले 9 टेस्ट सीरीज में लगातार जीत हासिल करते हुए आई थी। हालांकि भारत साउथ अफ्रीका में पहले दो मैचों में हार गया लेकिन तीसरे मैच में जीत हासिल की। तीसरा टेस्ट मैच जीतने से भारतीय टीम का हौसला काफी बढ़ा गया है। साउथ अफ्रीका में बल्लेबाजों के लिए खेलना काफी मुश्किल था लेकिन फिर भी भारत ने आखिरी मैच जीता। इस जीत से वनडे सीरीज और टी-20 में भारत का आत्मविश्वास बढ़ेगा।

कोच के जश्न से फैन्स हुए नाराज

As easy as a Sunday morning. Cheers.

A post shared by Ravi Shastri (@ravishastriofficial) on Jan 28, 2018 at 5:20am PST

 

भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने इस जीत का जश्न मनाते हुए इंस्टाग्राम पर एक फोटो अपलोड की। इस फोटो में वो एक ड्रींक को हाथ में लिए दिख रहे हैं। रवि शास्त्री का ये जश्न कुछ फैन्स को अच्छा नहीं लगा। नाराज फैन्स ने उनके फोटो पर कमेंट किए। फैन्स ने लिखा, एक जीत से इतना खुश मत होइए कोच साहब…!

वहीं कुछ फैन्स ने लिखा “इंडिया के कोच साहब एक मैच जीतकर इतना खुश मत होइए, सीरीज पर ध्यान दीजिए बाद में यह सब कर लेना।”

एक ने लिखा “प्रिय शास्त्री जी, कृपया करके कम से कम अब वनडे और टी20 सीरीज जीत लो।”

कुछ फैन्स ने जीत की दी बधाईयां

रवि शास्त्री को जीत का जश्न मनाते हुए देखकर नाराज हुए भारतीय प्रसंशक, सोशल मीडिया पर किया ट्रोल 2

इनके अलावा काफी फैन्स ने कोच को जीत की बधाई भी दी। कुछ फैन्स ने आखिरी जीत की बधाई देते हुए वनडे सीरीज के लिए शुभकामनाएं भी दी। कुछ ने पहले की हार को भूलने और जीत के विश्वास के साथ आगे बढ़ने की सलाह दी। हालांकि हमारा मानना भी यही है कि कोच और खिलाड़ी की निजी जिंदगी में हमें दखल नहीं देना चाहिए। हमें खेल को खेल भावना से ही लेना चाहिए। खेल में हार और जीत का सिलसिला लगा रहता है।

खिलाड़ी मैच जीतते हैं तो हम उनका गुणगान करने लगते हैं और हारे तो उनके लिए अभ्रद्र व्यवहार। ऐसा करना बिल्कुल गलत है। खिलाड़ी मैच हारते है नाकि कोई अपराध करते हैं। हर मैच में एक ना एक टीम तो हारती ही है इसलिए हारना कोई जुर्म नहीं होता। लिहाजा हार के लिए हम खिलाड़ी को कोई सजा नहीं दे सकते।

Leave a comment