इस वजह से चैम्पियंस ट्रॉफी के करो या मरो मुकाबले में न्यूज़ीलैंड को करना पड़ा हार का सामना | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

इस वजह से चैम्पियंस ट्रॉफी के करो या मरो मुकाबले में न्यूज़ीलैंड को करना पड़ा हार का सामना 

इस वजह से चैम्पियंस ट्रॉफी के करो या मरो मुकाबले में न्यूज़ीलैंड को करना पड़ा हार का सामना

गेंदबाजों की कसी हुई गेंदबाजी के बाद शाकिब अल हसन (114) और महामुदुल्लाह (नाबाद 102) के बीच हुई रिकार्ड साझेदारी के दम पर बांग्लादेश ने गुरुवार को आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के ग्रुप-ए के मुकाबले में न्यूजीलैंड को हैरान करते हुए पांच विकेट से मात दी।  शानदार प्रदर्शन करने वाली टीमें तारीफ के काबिल: विराट कोहली 

न्यूजीलैंड के बल्लेबाज बंग्लादेशी गेंदबाजों के आगे खुलकर नहीं खेल पाए और 266 रनों का ही लक्ष्य रख सके। इस लक्ष्य को बांग्लादेश ने बेहद खराब शुरुआत के बाद भी 47.2 ओवरों में पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया।

इस जीत के बाद न्यूजीलैंड की टीम चैम्पियंस ट्रॉफी से बाहर हो गई है जबिक बांग्लादेश ने अपने आप को सेमीफाइनल की दौड़ में बनाए रखा है। उसे अब किस्मत के साथ की जरूरत होगी। इस ग्रुप के आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच होने वाले अंतिम मैच में आस्ट्रेलिया जीत जाता है तो वह सेमीफाइनल में होगा जबकि बांग्लादेश बाहर हो जाएगा। इसलिए बांग्लादेश दुआ करेगी कि इंग्लैंड, आस्ट्रेलिया को हरा दे। इंग्लैंड पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुका है।

बांग्लादेश ने 12 साल पहले इसी मैदान पर आस्ट्रेलिया को हराते हुए उलटफेर किया था।

आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश की शुरुआत खराब रही और उसने 33 के कुल स्कोर तक ही अपने चार प्रमुख बल्लेबाजों को खो दिया था। टिम साउदी ने तमीम इकबाल (0), सौम्य सरकार (3), सब्बीर रहमान (8) को पवेलियन भेजा। वहीं एडम मिलने ने मुश्फीकुर रहीम (14) को आउट किया।

लेकिन इसके बाद शाकिब अल हसन और महामुदुल्लाह ने पांचवें विकेट के लिए 224 रनों की साझेदारी की। इन दोनों बल्लेबाजों के आगे किवी टीम के प्रत्येक गेंदबाज का हर दांव बेअसर साबित हुआ।

यह बांग्लादेश की तरफ से किसी भी विकेट के लिए एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले बांग्लादेश के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकार्ड तमीम और रहीम के नाम था। इन दोनों ने 17 अप्रैल 2015 को ढाका में पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे विकेट के लिए यह साझेदारी की थी।

शाकिब 257 के कुल स्कोर पर ट्रेंट बाउल्ट की गेंद पर बोल्ड हो गए। उन्होंने 115 गेंदें खेलीं और 11 चौके तथा एक छक्का लगाया। 107 गेंदों में आठ चौके और दो छक्के लगाने वाले महामुदुल्लाह अपनी टीम को जीत दिलाकर ही बाहर गए। शाकिब के जाने के बाद उन्होंने चौका मार अपना तीसरा शतक पूरा किया। मोसाद्देक हुसैन (नाबाद 7) ने चौका मार अपनी टीम को जीत दिलाई।

इससे पहले, बांग्लादेश के गेंदबाजों ने अपनी कसी हुई गेंदबाजी के दम पर किवी टीम के बल्लेबाजों को खुलकर नहीं खेलने दिया और उसे 50 ओवरों में आठ विकेट खोकर 265 के स्कोर पर सीमित कर दिया।

किवी टीम के अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर (63) और कप्तान केन विलियमसन (57) ही विकेट पर बांग्लादेश के गेंदबाजों का सामना कर सके। इन दोनों बल्लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए 83 रन जोड़े, जो न्यूजीलैंड की तरफ से इस पारी में सबसे बड़ी साझेदारी साबित हुई।

बांग्लादेश की तरफ से सबसे सफल गेंदबाज मोसाद्देक हुसैन रहे। उन्होंने सिर्फ तीन ओवर फेंके और 13 रन देकर तीन विकेट लेते हुए किवी टीम की कमर तोड़ दी। उनके अलावा तस्कीन अहमद ने दो विकेट लिए। मस्ताफिजुर रहमान और शाकिब को एक-एक सफलता मिली।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी किवी टीम ने धीमी शुरुआत की। मार्टिन गुप्टिल (33), ल्यूक रौंची (16) की सलामी जोड़ी पहले विकेट के लिए 7.1 ओवर में 46 रन ही जोड़ पाई। रौंची को तस्कीन ने पवेलियन भेजा।  प्लेन में कुछ इस इस तरह से धोनी की बेटी जीवा का क्रू मेम्बर ने किया स्वागत, साक्षी ने शेयर की तस्वीरे 

गुप्टिल को रूबले हुसैन ने 69 के कुल स्कोर पर पवेलियन भेजा। लेकिन इसके बाद कप्तान और टेलर ने टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाने की कोशिश की। दोनों ने टीम का स्कोर 152 तक पहुंचा दिया। हालांकि इस बीच बांग्लादेशी गेंदबाजों ने इन दोनों को खुलकर रन नहीं बनाने दिए।

यह जोड़ी 17.1 ओवरों में 4.83 की औसत से ही रन बना सकी। 69 गेंदों में पांच चौकों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेलने वाले विलियमसन रन आउट होकर पवेलियन लौटे। टेलर को इसके बाद नीम ब्रूम (36) का साथ मिला दोनों ने चौथे विकेट के लिए 5.65 की औसत से 49 रन जोड़े।

तस्कीन ने टेलर को आउट कर किवी टीम को बड़ा झटका दिया। उन्होंने 82 गेंदों की पारी में छह चौके लगाए।

यहां से किवी टीम के बल्लेबाज पहले से ज्यादा संघर्ष करने लगे। धीमी शुरुआत के बाद अंत में तेजी से रन बटोरने की उसकी रणनीति कारगर साबित नहीं हो पाई।

जिम्मी नीशम 23 रन बना पाए जबिक कोरी एंडरसन को मोसाद्देक हुसैन ने खाता नहीं खोलने दिया। एडम मिलने सात रन ही बना सके। मिशेल सैंटनर 14 और टीम साउदी 10 रनों पर नाबाद लौटे।

Related posts