रणजी ट्रॉफी में अब अलग से खेलेगी चंडीगढ़ की टीम,BCCI इस शर्त पर हुई है राजी

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

रणजी ट्रॉफी में अब अलग से खेलेगी चंडीगढ़ की टीम, बीसीसीआई इस शर्त पर हुई है राजी 

रणजी ट्रॉफी में अब अलग से खेलेगी चंडीगढ़ की टीम, बीसीसीआई इस शर्त पर हुई है राजी

चंढीगढ़ के क्रिकेटर्स और क्रिकेट प्रेमियों के मौकों में इजाफा होने वाला है। क्योंकि अब चंडीगढ़ यूटीकी टीम भी रणजी ट्रॉफी में खेलेगी। जी हां, अब खबरें आ रही हैं कि बीसीसीआई ने इस पर सहमति दे दी है। इस बात में कोई दो राय नहीं है, चंडीगढ़ के क्रिकेटरों को इससे काफी फायदा होगा और उनको अधिक मौके मिलेंगे।

आपको बता दें, अभी चंडीगढ़ के खिलाड़ी पंजाब और हरियाणा की टीमों में अपनी जगह बनाने के लिए जद्दोजहद करते रहते हैं। यूटी की टीम अगले सीजन से भारतीय घरेलू क्रिकेट रणजी ट्राफी क्रिकेट प्रतियोगिता में भाग ले सकती है।

रणजी ट्रॉफी की अलग टीम बनाने के लिए बीसीसीआई ने रखी यह शर्त

सूत्रों की मानें, अंशुमन गायकवाड़ और सबा करीम ने एसोसिएशनों के साथ हुई बातचीत के आधार पर अपनी रिपोर्ट बीसीसीआई प्रशासक कमेटी को सौंपी है। बीसीसीआई इसके बाद यूटी क्रिकेट एसोसिएशन को मान्यता देने के लिए तैयार हो गया है।

रणजी ट्रॉफी

बीसीसीआई ने एक सर्कुलर जारी कर तीनों एसोसिएशनों को निर्देश दिए हैं कि वह चार दिन के अंदर-अंदर आपसी सहमति से एक एसोसिएशन बना लें, वरना बीसीसीआई अपने स्तर यूटी क्रिकेट एसोसिएशन का गठन करेगी।

जाहिर सी बात है जब टीम अलग-अलग हो जाएंगी तो खिलाड़ियों के पास अधिक मौके उपलब्ध होंगे। उदाहरण के लिए पहले रणजी में 15 खिलाड़ियों को मौका मिलता था तो अब 30 खिलाड़ियों को मौका मिलेगा।

बीसीसीआई के सामने तीन क्रिकेट एसोसिएशन ने पेश की दावेदारी

बीसीसीआई की तरफ से शहर में क्रिकेट इंफ्रास्ट्रक्चर का जायजा लेने आए अंशुमन गायकवाड और सबा करीम के सामने तीन क्रिकेट एसोसिएशन ने अपनी अपनी-अपनी दावेदारी सामने रखी थी।

मौजूदा समय में चंडीगढ़ में तीन क्रिकेट एसोसिएशन हैं। जिसमें से एक यूटी क्रिकेट एसोसिएशन है। दूसरा चंडीगढ़ क्रिकेट एसोसिएशन को पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन से मान्यता मिली हुई है।

रणजी ट्रॉफी

इसके अलावा एक अन्‍य चंडीगढ़ क्रिकेट एसोसिएश को हरियाणा क्रिकेट एसोसिएशन से मान्यता प्राप्त है। तीनों एसोसिएशन अपने स्तर पर अलग -अलग क्रिकेट प्रतियोगिताएं करवाकर अपनी -अपनी उपस्थिति दर्ज करवाती रही हैं।

Related posts