रणजी ट्रॉफी 2019-20: कर्नाटक के खिलाफ शतक बनाते ही सचिन-गावस्कर की श्रेणी में शामिल हुए चेतेश्वर पुजारा 1

रणजी ट्रॉफी के पांचवें राउंड में सौराष्ट्रा का मुकाबला कर्नाटक से हो रहा है। यह मुकाबला राजकोट के माधवराव सिंधिया क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जा रहा है। सौराष्ट्र के कप्तान जयदेव उनादकट ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। सौराष्ट्र ने इससे पहले खेले 3 मैचों में 2 जीत हासिल की थी वहीं कर्नाटक को 4 मैचों में 2 जीत मिली थी।

चेतेश्वर पुजारा का शतक

रणजी ट्रॉफी 2019-20: कर्नाटक के खिलाफ शतक बनाते ही सचिन-गावस्कर की श्रेणी में शामिल हुए चेतेश्वर पुजारा 2

सौराष्ट्र के अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने इस मुकाबले के पहले दिन शतक जड़ दिया है। प्रथम श्रेणी क्रिकेट में यह पुजारा का 50वां शतक है। इसमें 18 शतक भारतीय टीम के लिए टेस्ट मैच में आए हैं। टेस्ट में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में आखिरी शतक बनाया था।

यह उनका 198वां प्रथम श्रेणी मैच था। इससे पहले खेले 197 मैचों में इनके बल्ले से 15188 रन निकले थे। उन्होंने ये रन 53.29 की औसत से बनाए हैं। इसमें 49 शतक के साथ ही 56 अर्धशतक भी शामिल था। रणजी में इससे पहले खेले मैचों में उन्होंने 2, 14, 69 और 57 का स्कोर बनाया था।

रणजी ट्रॉफी 2019-20: कर्नाटक के खिलाफ शतक बनाते ही सचिन-गावस्कर की श्रेणी में शामिल हुए चेतेश्वर पुजारा 3

9वें भारतीय बल्लेबाज बने

रणजी ट्रॉफी 2019-20: कर्नाटक के खिलाफ शतक बनाते ही सचिन-गावस्कर की श्रेणी में शामिल हुए चेतेश्वर पुजारा 4

चेतेश्वर पुजारा प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 50 शतक बनाने वाले भारत के 9वें बल्लेबाज बन गए हैं। इससे पहले कई दिग्गज बल्लेबाजों ने यह कारनामा किया है। सचिन तेंदुलकर और सुनील गावस्कर 81-81 शतक के साथ पहले स्थान पर हैं।

राहुल द्रविड़ ने 68, विजय हजारे ने 60, वसीम जाफर ने 57, दिलीप वेंगसरकर और वीवीएस लक्ष्मण ने 55 के साथ ही मोहम्मद अजहरुद्दीन ने 54 शतक बनाए थे। इसमें सिर्फ वसीम जाफर ही अभी प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेल रहे हैं।

आगे निकले का मौका

रणजी ट्रॉफी 2019-20: कर्नाटक के खिलाफ शतक बनाते ही सचिन-गावस्कर की श्रेणी में शामिल हुए चेतेश्वर पुजारा 5

चेतेश्ववर पुजारा के 50 शकत पूरे हो गए हैं और अभी उनमें काफी क्रिकेट बचा हुआ है। इसी वजह से वह कई भारतीय बल्लेबाजों को पीछे छोड़ सकते हैं। सबसे पहले उनके पास मोहम्मद अजहरुद्दीन को पीछे छोड़ने का मौका रहेगा।

पुजारा भारत के लिए सिर्फ टेस्ट मैच खेलते हैं। इसी वजह से रणजी ट्रॉफी के दौरान अगर भारत वनडे या टी-20 खेलता है तो वह रणजी मैच के लिए उपलब्ध रहते हैं। भारत को अगले महीने न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलना है।