इंग्लैंड की सरजमीं पर जारी है Cheteshwar Pujara का कहर, काउंटी के बाद रॉयल लंदन कप में लगाया रनों का अंबार
इंग्लैंड की सरजमीं पर जारी है Cheteshwar Pujara का कहर, काउंटी के बाद रॉयल लंदन कप में लगाया रनों का अंबार

भारतीय ऑलराउंडर चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) इंग्लैंड में काउंटी चैम्पियनशिप के बाद अब रॉयल लंदन कप में भी धमाल मचा रहे हैं। इस टूर्नामेंट में उन्होंने अबतक 2 शतक और 2 अर्धशतक जड़ चुके हैं। सोमरसेट के खिलाफ शुक्रवार को खेले गये मुकाबले में उनका रौद्र रूप देखने को मिला जिसने विपक्षी टीम के गेंदबाजों की धज्जियां ही उड़ा कर रख दी।

रॉयल लंदन कप में बरपा रहे हैं कहर

Cheteshwar Pujara
Cheteshwar Pujara

चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) भले ही भारतीय टीम से बाहर चल रहे हैं लेकिन इंग्लैंड में उनका बल्ला जमकर बोल रहा है। काउंटी चैम्पियनशिप के बाद अब रॉयल लंदन कप में भी वो धमाल मचा रहे हैं। अबतक खेले गये 7 मुकाबलों में उन्होंने 2 शतक और 2 अर्धशतक की मदद से 482 रन ठोक चुके हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 110 और औसत 96 का रहा। ससेक्स की कप्तानी करते हुए चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने यह तो बता दिया कि अभी भी उनके अंदर क्रिकेट बरकरार है।

सोमरसेट के खिलाफ जड़ा अर्धशतक

Cheteshwar Pujara
Cheteshwar Pujara

शुक्रवार को रॉयल लंदन कप के ग्रुप ए मुकाबले में ससेक्स ने कप्तान चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की अर्धशतकीय पारी के बदौलत सोमरसेट को 201 रनों से शिकस्त देने में कामयाब हो पायी थी। इस मुकाबले में पुजारा के बल्ले से 5 चौके और 1 छक्का निकला जिसके बदौलत उन्होंने 66 गेंदों में 66 रनों की पारी खेली।

चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) के बदले टीम के ओपनिंग बल्लेबाज अली ओर ने दोहरा शतक जड़ते हुए 161 गेंदों में 206 रन ठोके जिससे ससेक्स पूरे 50 ओवर में 5 विकेट खोकर सोमरसेट के सामने 397 रनों का लक्ष्य रखा। हालांकि इस पहाड़ जैसे स्कोर को देखते हुए सोमरसेट के बल्लेबाजों के पैरो तले की जमीन ही खिसक गयी और वो महज 196 रनों पर ही ऑल आउट हो गये।

काउंटी चैम्पियनशिप में भी दिखाया था दम

Cheteshwar Pujara in County Championship
Cheteshwar Pujara in County Championship

रॉयल लंदन कप से पहले चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) इंग्लैंड में ही खेले गये काउंटी चैम्पियनशिप में भी अपना रौद्र रूप दिखा चुके हैं। उन्होंने इस टूर्नामेंट के 10 पारियों में 124.62 की औसत से 997 रन ठोके थे। इसी के साथ काउंटी चैम्पियनशिप में वो सबसे रन बनाने वाले तीसरे बल्लेबाज बन चुके हैं। उनसे पहले यह कारनामा बेन डक्केट (1005 रन) और शान मसूद (1074 रन) कर चुके हैं।