गेल का बड़ा खुलासा, मेरी 317 रन की पारी के दौरान चिंतित हो गए थे लारा

tiwarymadan / 13 June 2016

नई दिल्ली, वेस्टइंडीज के धुंआधार बल्लेबाज क्रिस गेल ने अपनी 317 रनों की पारी को लेकर बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने अपनी आत्मकथा में लिखा है कि साल 2005 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली गयी 317 रनों की पारी के दौरान पूर्व कप्तान ब्रायन लारा काफी परेशान हो गए थे.

अपनी किताब ‘सिक्स मशीन:आई डोंट लाईक क्रिकेट. आई लव इट’ में दावा किया गया है कि पारी के दौरान लारा बार बार स्कोरबोर्ड देख रहे थे. गेल ने किताब के जरिये बताया है कि “कुछ खिलाड़ी रिकॉर्ड को लेकर काफी परेशान रहते हैं. उस मैच में लारा जल्दी आउट हो गए थे. वे सिर्फ 4 रन ही बना सके थे. इसके बाद ड्रेसिंग रूम में बैठकर किताब पढ़ते रहे. जब मैं अपनी पारी में आगे बढ़ रहा था तब वो कुछ कुछ देर पर स्कोरबोर्ड की ओर देखते और फिर वापस बैठ जाते.”

वेस्टइंडीज के धाकड़ बल्लेबाज गेल ने दावा किया है कि, “ब्रायन लारा बाहर आकर जितनी मेरा स्कोर देखते, उनकी उतनी बार चिंता बढ जाती ।”

उन्होंने कहा,“जब मैं लंच और चाय के दौरान ड्रेसिंग रूम आया तो उन्होंने मुझसे कुछ नहीं कहा। कोई सलाह नहीं दी कि ऐसे ही खेलते रहो या टीम के लिये बड़ा स्कोर बनाओ । इसके बाद जब मैं वापिस गया तो फिर वह कुछ देर ड्रेसिंग रूम में और कुछ देर बालकनी में आकर मेरा स्कोर देखने लगे इस दौरान रामनरेश सरवन लगातार उन्हें देख रहा था.”

इस मैच में गेल 317 रन पर आउट हो गए और लारा का 400 रन का रिकार्ड नहीं तोड़ पाए थे. गेल ने यह किताब टाम फोर्डिस के साथ मिलकर लिखी है और इसका प्रकाशन पेंग्विन रेंडम हाउस ने किया है. इसमें गेल ने कुछ सनसनीखेज दास्तानों का भी जिक्र किया है.

क्रिस गेल ने कहा कि “ज्यादातर लोगों को लगता है कि वह अहंकारी हैं और क्रिकेट को लेकर जुनूनी नहीं है।”

उन्होंने किताब में लिखा कि लोग बातों को गलत समझते हैं। यह शायद मेरी बल्लेबाजी की वजह से है क्योंकि मैं बहुत तेज शाट खेलता हूं तो उन्हें लगता है कि मैं लापरवाह हूं. और बल्लेबाजी को लेकर ज्यादा संजीदा नहीं हूँ.

उन्होंने लिखा, “मैं अहंकारी नहीं हूँ और शायद लोग लड़कियों की वजह से भी मुझे अहंकारी समझते हैं लेकिन लड़कियां मुझसे प्यार करती है और मैं उनके लिए  ‘हाट ब्वाय’हूं. जमैका में ऐसा ही होता है. हम किसी भी तरह का कोई दिखावा नहीं करते हैं.”