राहुल द्रविड़ ने बताया दिल्ली डेयरडेविल्स के टूर्नामेंट से बाहर होने का सबसे बड़ा कारण, साथ ही युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन को लेकर कहा कि | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

IPL 2018

राहुल द्रविड़ ने बताया दिल्ली डेयरडेविल्स के टूर्नामेंट से बाहर होने का सबसे बड़ा कारण, साथ ही युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन को लेकर कहा कि 

राहुल द्रविड़ ने बताया दिल्ली डेयरडेविल्स के टूर्नामेंट से बाहर होने का सबसे बड़ा कारण, साथ ही युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन को लेकर कहा कि

आईपीएल के दसवें सीजन का लीग चरण समाप्त हो गया है। और अब ऐसे में ये आईपीएल खत्म होने में अब एक सप्ताह का समय ही रह गया है। रविवार रात को आईपीएल दस के लीग चरण का आखिरी मैच दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच खेला गया। इस मैच में अंक तालिका की सबसे नीचे पायदान पर मौजुद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने दिल्ली डेयर डेविल्स को 10 रनों से हरा दिया। इसी मैच के बाद दिल्ली डेयरडेविल्स के मेंटर राहुल द्रविड़ ने माना कि इस सीजन पिछले कुछ सालों की तुलना में सुधार हुआ है।

पिछले दो साल से टीम ने किया है सुधार

दिल्ली डेयरडेविल्स को पिछले दो साल से मेंटर के तौर पर अपनी सेवाएं दे रहे भारतीय क्रिकेट के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि ”मुझे लगता है कि अगर हम देखे पिछल कुछ सीजन तो ये दिखाता है कि पिछले दो सीजन से हमने काफी कुछ सुधार दिखाया है और साथ ही हमने दिखाया कि हम सही रास्ते पर जा रहे हैं लेकिन ये काफी नहीं रहेगा।” राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्षमण विश्व के सबसे बढ़िया बल्लेबाज़ : मोहम्मद आसिफ

नजदीकी मुकाबलों में हमें मिली हार

साथ ही राहुल द्रविड़ ने आगे कहा कि ”आपको इस टूर्नामेंट में क्वलीफाई7 करने के लिए कम से कम आठ मैच जीतने होते हैं। हमने आखिरी साल सात मैच जीते थे वहीं इस साल 6 मैच जीत सके और मुझे लगता है कि हमने कई मैच बेहद नजदीकी हारे हैं जिसकी कीमत हमें चुकानी पड़ी। वैसे ये इस टूर्नामेंट का स्वभाव है। इस टूर्नामेंट में कुछ शानदार टीमें हैं और आपको उनसे मैच जीतने की जरूरत होती है। वैसे इस टूर्नामेंट में हमारे करीब सात से आठ मैच ऐसे रहे जो बेहद नजदीकी रहे जिनमें से हम केवल दो मैच ही जीत सके वहीं हमें 5 से 6 मैचों में हार का सामना करना पड़ा।”

”आप इतने ज्यादा मैच हारकर अपेक्षा नहीं कर सकते।  इनमें से आपको सही संतुलन के साथ परिणाम हासिल करने की जरूरत थी लेकिन हम ऐसा नहीं कर सके। जाहिर तौर पर ये थोड़ा कुछ निराश करने वाला है। लेकिन सकारात्मक रूप से देखा जाए तो ये सीजन अच्छा रहा।”

युवा बल्लेबाजों के कायल हुए द्रविड़

वहीं राहुल द्रविड़ ने अपनी टीम के युवा बल्लेबाज संजू सैमसन, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत के प्रदर्शन को लेकर कहा कि  ”जब आप हमारे इन बल्लेबाजों को देखते हो तो हां वो सभी हमारे बहुत ही प्रतिभाशाली बल्लेबाज है। और हां इनमें दूसरे लोगो की तुलना में अनुभव की कमी जरूर है लेकिन आपने इन सभी बल्लेबाजों में देखा होगी कि इनमें अलग तरह का और बड़े स्तर का हुनर है।”राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर जैसे महान खिलाड़ियों की श्रेणी में शामिल होने के बाद अश्विन ने इन्हें बताया सर्वश्रेष्ठ कप्तान

जेपी डुमिनि और डीकॉक का नही खेलना हमारा दुर्भाग्य

राहुल द्रविड़ ने विदेशी बल्लेबाज जेपी डुमिनि और डी कॉक के इस टूर्नामेंट में चोटिल होने के कारण बाहर होने को लेकर कहा कि ”हमारा दुर्भाग्य था कि सीजन शुरू होने से पहले और ऑक्शन के बाद हमारी टीम के दो सबसे अनुभवी बल्लेबाज क्विनटन डी कॉक और जेपी डुमिनि को चोट के कारण इस आईपीएल से बाहर होना पड़ा ऐसे में हमें इसके रिप्लेसमेंट के तौर पर आखिरी मिनट पर देखना पड़ा। और जब सभी बड़े खिलाड़ी बिक चुके हो तो अनुमान लगाना आसान नहीं रहता।”

Related posts