कोलंबो टेस्ट : साहा का अर्धशतक, भारत के चायकाल तक 7/553 रन | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

कोलंबो टेस्ट : साहा का अर्धशतक, भारत के चायकाल तक 7/553 रन 

कोलंबो टेस्ट : साहा का अर्धशतक, भारत के चायकाल तक 7/553 रन

रविचंद्रन अश्विन (54) और रिद्धिमान साहा (नाबाद 59) की अर्धशतकीय पारियों के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने सिंहली स्पोर्ट्स मैदान पर जारी दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को दूसरे सत्र की समाप्ति तक अपनी पहली पारी में सात विकेट खोकर 553 रन बना लिए हैं। दूसरे सत्र में भारतीय टीम ने अपने दो विकेट खोए, वहीं साहा और रवींद्र जडेजा (नाबाद 37) पिच पर बने हुए हैं।

भारतीय टीम ने शुक्रवार को दूसरे दिन अपनी पारी की शुरुआत के बाद पहले सत्र की समाप्ति तक पांच विकेट पर 442 रन बना लिए थे। पहले दिन गुरुवार को तीन विकेट पर 344 रन बनाने वाली मेजबान टीम ने भोजनकाल तक चेतेश्वर पुजारा (133) और अजिंक्य रहाणे (132) के रूप में अपने दो विकेट खोए।

इसके बाद दूसरे सत्र में भारतीय पारी को आगे बढ़ाने उतरे अश्विन और साहा ने छठे विकेट के लिए 38 रन ही जोड़े थे कि 451 के कुलयोग पर रंगना हेराथ ने अश्विन को बोल्ड कर पवेलियन भेजा। उन्होंने अपनी पारी में 92 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्का लगाया।   विराट कोहली ने चेतेश्वर पुजारा को एक साल पहले लगाया था डांट

अश्विन के बाद साहा का साथ देने आए हार्दिक पांड्या (20) को नए गेंदबाज पुष्पकुमारा ने ज्यादा देर तक मैदान पर नहीं टिकने दिया और एंजेलो मैथ्यूज के हाथों कैच आउट कर मेहमान टीम का सातवां विकेट भी गिराया।

इसके बाद साहा का साथ देने आए जडेजा ने चायकाल तक बिना कोई विकेट गंवाए 57 रनों की अर्धशतकीय साझेदारी कर टीम को 553 के स्कोर तक पहुंचा दिया।

श्रीलंका की ओर से पुष्पकुमारा और हेराथ ने दो-दो विकेट लिए, वहीं परेरा और करुणारत्ने को एक-एक सफलता मिली।   यह बांग्लादेश खिलाड़ी है महेंद्र सिंह धोनी का जबरा फैन, ये रहा सबूत

इससे पहले, गुरुवार को टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने पहले दिन अपनी पहली पारी में दिन का खेल समाप्त होने तक तीन विकेट के नुकसान पर 344 रन बना लिए थे। भारत की ओर से पहले दिन आउट होने वाले बल्लेबाज शिखर धवन (35), लोकेश राहुल (57) और कप्तान विराट कोहली (13) रहे।

शुक्रवार को दिन के पहले सत्र में भारतीय पारी को आगे बढ़ाने उतरी पहले दिन की नाबाद जोड़ी पुजारा और रहाणे ने टीम के खाते में 6 रन ही जोड़े थे कि 350 के कुल स्कोर पर दिमुथ करुणारत्ने ने पुजारा को पगबाधा आउट कर इस साझेदारी को तोड़ दिया।

अपने करियर का 50वां टेस्ट मैच खेलने वाले पुजारा ने 232 गेंदों का सामना करते हुए 11 चौके और एक छक्का लगाया। उन्होंने अपने टेस्ट करियर के 4,000 रन भी पूरे किए।

पुजारा के आउट होने के बाद रहाणे का साथ देने आए अश्विन ने पांचवें विकेट के लिए 63 रनों की साझेदारी कर टीम को 400 के स्कोर के पार पहुंचाया। नए गेंदबाज मलिंदा पुष्पकुमारा की गेंद पर रहाणे विकेट के पीछे निरोशन डिकवेला के हाथों लपके गए।

रहाणे ने भी शानदार पारी खेली और 222 गेंदों पर 14 चौके लगाए। इसके बाद साहा ने अश्विन के साथ मिलकर भोजनकाल तक 29 रनों की साझेदारी कर टीम को 442 के स्कोर तक पहुंचाया।  कबड्डी खिलाड़ी अनूप कुमार और नरवाल से पंगा लेना जडेजा को पड़ा महँगा, गँवाना पड़ा सबसे महत्वपूर्ण चीज

Related posts