//

चीन में खत्म हो रहे कोरोना वायरस के केस को देख भड़के हरभजन सिंह, कह दी ये बात

कोरोना वायरस

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी गिरफ्त में कर रखा है. दुनियाभर में लाखों लोग इस महामारी के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं. वक्त के साथ कोरोना का खतरा भारत में भी बढ़ता जा रहा है. मगर चीन जहां से इस बीमारी की शुरुआत हुई थी, वहां अब कोरोना वायरस का संक्रमण लगभग खत्म हो गया है. गुरुवार को वहां एक भी नया केस नहीं आया. इसपर अब हरभजन सिंह ने चीन को लताड़ते हुए कहा है कि शायद यही प्लान था.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

चीन पर भड़के हरभजन सिंह

चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकार मचा रखा है. लेकिन अब चाइना ने ये साफ कर दिया कि गुरुवार को चाइना में कोविड-19 का कोई नया केस नहीं आया है. इसके बाद टीम इंडिया के दिग्गज स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह का गुस्सा चीन पर फूट पड़ा.

हरभजन ने अपने ट्विटर हैंडिल पर लिखा- ‘शायद यही प्लान था. दुनिया भर में कोरोना को फैला दो और फिर खुद बैठकर बस देखो. दुनिया भर के लिए मास्क, पीपीई किट बनाकर अपनी इकोनॉमी मजबूत करो.

कोरोना को लेकर चीन पर बरसे थे अख्तर

दुनियाभर के तमाम देशों की तरह पाकिस्तान में भी कोरोना वायरस ने आतंक फैला रखा है. इस महामारी के फैलने के शुरुआती दिनों में पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने चीन के खानपान पर गुस्सा दिखाते हुए कहा था कि,

‘आपको चमगादड़ को खाने या उसका खून और पेशाब पीने की क्या जरूरत है. इसकी वजह से पूरी दुनिया में यह वायरस फैल गया. मैं चीनी लोगों की बात कर रहा हूं.

उन्होंने पूरी दुनिया को मुश्किल में डाल दिया है. मुझे समझ नहीं आता कि आप चमगादड़, कुत्ते और बिल्ली को कैसे खा सकते हैं. मुझे सच में बहुत गुस्सा आ रहा है.’

भारत में कोरोना ने मचाया है हाहाकार

कोरोना वायरस

अमेरिका, रूस, इटली, ब्रिटेन जैसे बड़े-बड़े देश कोरोना वायरस के सामने लाचार नजर आ रहे हैं. अमेरिका में कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले दर्ज हुए हैं और वहां मरने वालों की संख्या भी सबसे अधिक है. वहीं भारत में भी इस महामारी ने लाख का आंकड़ा छू लिया है. अब तक भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 1 लाख 66 हजार है. 4700 से अधिक लोग अपनी जान भी गंवा चुके हैं.

भारत में 2 महीने से अधिक वक्त से लगातार लॉकडाउन बनाए रखा गया है. अब लॉकडाउन 4.0 31 मई को खत्म होने वाला है. मगर बिगड़ते हालातों को देखते हुए ये कहना गलत नहीं होगा कि सरकार अभी लॉकडाउन को आगे बढ़ा सकती है.