दक्षिण अफ्रीका

आज के समय में क्रिकेट में क्रिकेटरो को बहुत ही कम आर्थिक समस्या से जूझना पड़ता है. लेकिन पहले के समय में ऐसा कम नजर आता था. दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज जोसेफ पार्ट्रिज ने एक समय ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को जमकर अपने गेंदों पर नचाया था. बाद में होटल का बिल नहीं भर पाने के कारण उन्होंने सुसाइड कर लिया था.

दक्षिण अफ्रीका का वो गेंदबाज जिसने ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को किया परेशान

दक्षिण अफ्रीका

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने वाला कोई खिलाड़ी पैसे के तंगी से सुसाइड कर लेगा ये सोचना भी आज गलत लगता है. लेकिन ऐसा 32 साल पहले हुआ था. जब दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज जोसेफ पार्ट्रिज ने होटल का बिल नहीं चूका पाने के कारण सुसाइड कर लिया था. 9 दिसंबर 1932 को जन्में जोसेफ ने दक्षिण अफ्रीका के लिए 11 टेस्ट मैच ही खेला था.

उन्होंने 11 टेस्ट मैच में कुल 44 विकेट अपने नाम किया है. उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 91 रन देकर 7 विकेट लेना रहा था. उन्होंने 3 बार एक पारी में 5 विकेट लेने का कारनामा किया हुआ है. दक्षिण अफ्रीका की टीम उन्हें ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड जैसी बड़ी टीमों के खिलाफ हथियार की तरह प्रयोग करती थी. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वो अक्सर बल्लेबाजों को बहुत ज्यादा परेशान करते हुए नजर आते थे.

न्यूजीलैंड के खिलाफ किया था सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

दक्षिण अफ्रीका का वो गेंदबाज जिसने ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को किया जमकर परेशान, होटल का बिल न चूका पाने पर किया आत्महत्या 1

अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत दक्षिण अफ्रीका के लिए जोसेफ ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था. जब वो मैच में एक विकेट ही लेने में सफल हो पायें थे. लेकिन दूसरे मैच में 5 विकेट उन्होंने हासिल किया. उसके बाद फिर उन्होंने 9 विकेट अपने नाम किया. उसके बाद अगले मैच में भी उन्होंने 9 विकेट अपने नाम किया था.

1964 में उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ एक पारी में 7 विकेट लेकर खुद को विश्व के सामने बेहतर गेंदबाज साबित कर दिया था. उसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ 3 मैच की सीरीज में जब उन्होंने मात्र 6 विकेट ही हासिल किया तो उन्हें टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था. जिसके बाद से वो कभी अपनी टीम में वापसी नहीं कर पायें और बाहर से ही संन्यास ले लिया.

पुलिस स्टेशन में खुद को मार ली थी गोली

दक्षिण अफ्रीका

इस गेंदबाज ने जिस तरह से अपनी जिन्दगी खत्म किया. उससे सभी निराश हैं, 7 जून 1988 को हरारे में इस खिलाड़ी ने 55 वर्ष के उम्र में खुद को गोली मार ली थी. वो अपने होटल का बिल नहीं चूका पायें तो उन्हें पुलिस उठा कर ले गयी थी. जहाँ पर फिर उन्होंने पुलिस स्टेशन में ही खुद को शूट कर लिया. जिसके बाद इस खिलाड़ी का अंत हो गया.