Prithvi Shaw ने दलीप ट्रॉफी में जड़ा दमदार शतक
Prithvi Shaw ने दलीप ट्रॉफी में जड़ा दमदार शतक

दिलीप ट्रॉफी 2022 (Duleep Trophy 2022) के पहले क्वार्टर फाइनल मुकाबले में वेस्ट जोन और नॉर्थ ईस्ट जॉन के बीच खेला जा रहा है। इस मैच में वेस्ट जॉन के टॉप तीन बल्लेबाजों ने धमाल मचाते हुए सभी का ध्यान अपनी ओर खींच लिया है, जिसमें भारतीय टीम के युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) का बल्ला आग उगलता नजर आया और उन्होंने (Prithvi Shaw) अपने इस घातक प्रदर्शन से एक बार फिर से टीम इंडिया में वापसी के लिए दावेदारी ठोक दी है।

Prithvi Shaw ने दिलीप ट्रॉफी में जड़ा दमदार शतक

Prithvi Shaw ने दलीप ट्रॉफी में जड़ा दमदार शतक
Prithvi Shaw ने दलीप ट्रॉफी में जड़ा दमदार शतक

दरअसल भारतीय क्रिकेट टीम के युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) की कप्तानी में मुंबई की टीम इस बार रणजी ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची थी, जहां शॉ का बल्ला कुछ खास कमाल नहीं कर पाया था, जिसके बाद उन्हें सेलेक्टर्स लगातार नजरअंदाज करने लगे थे। ऐसे में चेन्नई में खेली जा रही दिलीप ट्रॉफी के पहले ही मैच में पृथ्वी शॉ का बल्ला आग उगलता नजर आया और उन्होंने पहले ही मुकाबले में 113 रन की पारी खेलकर फॉर्म में लौटने के संकेत दे दिए हैं।

बता दें दिलीप ट्रॉफी के क्वाटर फाइनल मैच में नॉर्थ ईस्ट जोन के खिलाफ एक ताबड़तोड़ शतक जड़कर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर लिया है। इस मैच में पृथ्वी ने 108 गेंदों का सामना कर अपना शतक पूरा किया और कुल 121 गेंदों पर 11 चौके और 5 छक्के लगाए। ऐसे में उन्होंने अपनी आक्रामक पारी के बदौलत टीम इंडिया में वापसी के लिए एक बार फिर से दावेदारी ठोक दी है।

पृथ्वी के अलावा इन खिलाड़ियों ने मचाया कहर

Prithvi Shaw के अलावा इन खिलाड़ियों ने मचाया कहर
Prithvi Shaw के अलावा इन खिलाड़ियों ने मचाया कहर

बता दें दिलीप ट्रॉफी में वेस्टजॉन की तरफ से खेलते हुए पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) के अलावा यशस्वी ने शानदार दोहरा शतक ठोक दिया है। इस मैच में कप्तान अजिंक्ये रहाणे ने भी शानदार पारी खेली। बता दें भारतीय टेस्ट टीम से बाहर चल रहे अनुभवी बल्लेबाज अंजिक्ये रहाणे शानदार लय में चल रहे है।

जहां उन्होंने धमाकेदार शतक ठोकते हुए टीम इंडिया में वापसी के संकेत दे दिए है। तो वहीं यशस्वी जायस्वाल के फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर का ये पहला दोहरा शतक रहा, जिसे उन्होंने 281 गेंदों में पूरा किया।