'रोहित अगर कप्तान नहीं होते तो उन्हें टीम से बाहर...', टी-20 विश्व कप से पहले गौतम गंभीर ने दिया विवादित बयान 1

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) अक्सर बयानबाज़ी करते हुए नजर आते रहते हैं। जहां कई बार उन्हें अपने बयानों के चलते आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है, लेकिन गंभीर हमेशा गंभीरता से ही बोलते हैं। इसी कड़ी में गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा, विराट कोहली और केएल राहुल को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। आइये जानते है गौतम गंभीर ने क्या कहा?

टी-20 विश्व कप से पहले Gautam Gambhir ने दिया ये बयान

टी-20 विश्व कप से पहले Gautam Gambhir ने दिया ये बयान
टी-20 विश्व कप से पहले Gautam Gambhir ने दिया ये बयान

दरअसल हाल ही में एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान टीम इंडिया के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) से आगामी टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए खिलाड़ियों की बल्लेबाजी कम्र को लेकर एक सवाल किया गया , तो उसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि आप केएल राहुल की भूमिका को भूल रहे हैं कि उन्होंने भारत के लिए ओपन करते हुए कितना योगदान दिया है।

वहीं विराट कोहली भारतीय टीम के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करते हैं और गंभीर का मानना है कि उनके लिए तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करना एक दम ठीक है। वहीं उन्होंने कहा कि विश्व कप में रोहित और राहुल को ही भारत के लिए ओपनिंग करनी चाहिए।

‘रोहित शर्मा कप्तान नहीं होते तो…’

'रोहित अगर कप्तान नहीं होते तो उन्हें टीम से बाहर...', टी-20 विश्व कप से पहले गौतम गंभीर ने दिया विवादित बयान 2

इसी कड़ी में गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को लेकर एक चौंकाने वाला बयान दिया। बता दें रोहित शर्मा इस समय टीम इंडिया के नियमित कप्तान है, गंभीर ने कहा कि रोहित के लिए भी ऐसी ही बातें होती या उन्हें भी टीम से बाहर करने का जिक्र होता, ये सब कहने की बाते हैं। वहीं उन्होंने ये कहा कि केएल राहुल ने भारत के लिए जो योगदान दिया है उसे भुलाया नहीं जा सकता है।

इसके साथ ही गंभीर ने भी कहा कि जब आप विराट कोहली (Virat Kohli) से ओपनिंग करवाने की बात करते हैं तो सोचिए केएल राहुल (KL Rahul) पर क्या गुजरती होगी, उन्हें कितनी असुरक्षा महसूस होती होगी जब ऐसी बातें होती हैं. क्या हुआ अगर के एल राहुल ने पाकिस्तान के खिलाफ रन नहीं बनाए? अगर रोहित शर्मा भारत के कप्तान ना होते तो ऐसी ही स्थिति उनकी भी ये ही होती। आप राहुल के नज़रिए से सोचिए, आप भारतीय टीम के नज़रिए से सोचिए. सब कुछ आपने के एल राहुल पर डाल दिया है।