कानपुर टेस्ट : पहले दिन स्टम्प्स तक भारत ने बनाए 9 विकेट पर 291 रन

कानपुर, 22 सितम्बर (आईएएनएस)| कानपुर, 22 सितम्बर (आईएएनएस)| भारतीय क्रिकेट टीम ग्रीनपार्क स्टेडियम में खेले जा रहे तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला के पहले मैच के पहले दिन गुरुवार को अच्छी शुरूआत के बाद लड़खड़ा गई। दिन का खेल का खत्म होने तक मेजबानों ने नौ विकेट खोकर 291 रन बना लिए हैं। पहले सत्र में सिर्फ एक विकेट गंवाने वाली भारतीय टीम ने अगले दो सत्र में अपने आठ विकेट खो दिए। दिन की समाप्ति पर रविन्द्र जडेजा 16 और उमेश यादव आठ रन पर नाबाद लौटे।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

मेजबानों को अच्छी शुरुआत मिली लेकिन मध्यक्रम और निचला क्रम इस शुरुआत को भुनाने में नाकामयाब रहा।

भारत की तरफ से सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने सर्वाधिक 65 रन बनाए। उनके अलावा चेतेश्वर पुजार ने 62 रनों का योगदान दिया। पुजारा ने अपनी पारी में 109 गेंदें खेलीं और आठ चौके लगाए। वहीं, विजय ने अपनी पारी में 170 गेंदों का सामना किया और आठ चौकों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली।

यह भी पढ़े: रविचंद्रन अश्विन ने किया ड्रीम टीम का ऐलान, केवल एक भारतीय को मिली जगह

भारत की तरफ से सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने सर्वाधिक 65 रन बनाए। उनके अलावा चेतेश्वर पुजार ने 62 रनों का योगदान दिया। पुजारा ने अपनी पारी में 109 गेंदें खेलीं और आठ चौके लगाए। वहीं, विजय ने अपनी पारी में 170 गेंदों का सामना किया और आठ चौकों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली।

ऐतिहासिक 500वें टेस्ट मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। शिखर धवन की जगह टीम में शामिल किए गए लोकेश राहुल (32) ने आक्रामक खेल खेला और ट्रेंट बाउल्ट को पहले ही ओवर में दो चौके जड़े।

मिशेल सेंटनर ने राहुल को विकेट के पीछे कैच करा कीवी टीम को पहली सफलता दिलाई। इसके बाद पुजार और विजय ने पहले सत्र में कोई और विकेट गिरने नहीं दिया।

दूसेर सत्र में विजय और पुजारा ने अपने-अपने अर्धशतक पूरे किए। लेकिन मेहमानों ने नियमित अंतराल पर पुजारा, कोहली (9) और विजय के विकेट लेकर भारत को दबाव में डाल दिया।

उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे (18) ज्यादा देर तक मैदान पर टिक नहीं सके। रोहित शर्मा (35) और रविचन्द्रन अश्विन (40) ने छठें विकेट के लिए 52 रन की साझेदारी कर टीम को संभाला। रोहित सेंटनर की गेंद पर इश सोढ़ी द्वारा लपके गए। एक रन बाद ट्रेंट बाउल्ट ने अश्विन को पवेलियन भेजा।

रोहित शर्मा ने भी 35 रनों की जूझारू पारी खेली।

यह भी पढ़े: सहवाग ने प्रधानमंत्री और रवि अश्विन को दी जन्मदिन की अनोखे अंदाज में शुभकामनाए

बाउल्ट ने रिद्धिमान साहा और मोहम्मद समी को बिना खाता खोले पवेलियन लौटा दिया। उमेश ने जडेजा का साथ दिया और फिर कोई विकेट नहीं गिरने दिया। दोनों के बीच 14 रनों की साझेदारी हो चुकी है।

कीवी टीम की तरफ से बाउल्ट और सेंटनर ने तीन-तीन विकेट लिए। नील वेगनर, मार्क क्रेग और सोढ़ी को 1-1 सफलता मिली।