ms dhoni made 3 players career

15 अगस्त 2020 यही वो ऐतिहासिक दिन था जब टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा था। आज इसे दो साल हो चुके हैं। हालांकि, धोनी अभी आईपीएल में सक्रिय हैं और चेन्नई की कप्तानी भी कर रहे हैं। 40 साल की उम्र में भी धारदार शॉट खेलने से पीछे नहीं हट रहे हैं और टीम को जीत भी दिला रहे हैं। इसका नमूना हम आईपीएल 2022 में देख ही चुके हैं।

इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद एमएस धोनी (MS Dhoni) अपने पीछे युवा खिलाड़ियों के लिए कई मिशाल छोड़कर कर गए हैं। अगर कोई उनके पद चिन्हों पर चल ले तो वो एक दिन बड़ा खिलाड़ी जरूर बन सकता है। झारखंड के शहर रांची में जन्में इस खिलाड़ी ने अपनी कप्तानी में भारत को तीन आईसीसी ट्रॉफी दिलवाई। भारत ने सबसे पहले धोनी की कप्तानी में साल 2007 में टी20 विश्वकप, 2011 में वनडे विश्वकप और साल 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी पर अपना कब्जा जमाया। इसके साथ ही धोनी ने भारतीय क्रिकेट को तीन ऐसे अनमोल रत्न भी दिए विश्व क्रिकेट पर राज कर रहे हैं। आज हम आपको ऐसे ही तीन खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे।

रविंद्र जडेजा

MS Dhoni and Ravindra Jadeja

इस लिस्ट में पहला नाम टीम इंडिया के हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) का है जो आज क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में अपना जलवा बिखेर रहे हैं। रवींद्र जडेजा और एमएस धोनी (MS Dhoni) का याराना किसी से छिपा नहीं है। साल 2009 में अपने इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत करने वाले जडेजा, धोनी के इतने खास बना जाएंगे, यह किसी ने सोचा नहीं था। इस समय वो आईपीएल में चेन्नई का हिस्सा हैं और काफी लंबे समय से वो इस टीम के लिए खेल रहे हैं। धोनी को जब भी विकेट की तलाश होती है तो वो जडेजा का नंबर घूमा देते हैं। ये धोनी ही हैं जिन्होंने जडेजा को ‘सर’ की उपाधि से नवाजा था।

एमएस धोनी (MS Dhoni) ने कई बार जडेजा को टीम से ड्रॉप होने से भी बचाया है। इस समय रवींद्र जडेजा क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में सक्रीय हैं और दमदार प्रदर्शन कर रहे हैं। साथ ही वो आईपीएल में भी टीम को मैच जिता रहे हैं। 59 टेस्ट मैच में उन्होंने अबतक अपने करियर में 59 मैचों में 242 विकेट लेने के साथ ही 2396 रन भी बनाए हैं। इसके अलावा लिमिटेड ओवर फॉर्मेट में भी जडेजा का जलवा रहता है, उन्होंने 168 वनडे मैचों में 188 विकेट और 2411 रन अपने नाम किए हैं। वहीं, टी20 की बात करें तो 58 मैचों में 326 रन बनाने के साथ 48 विकेट भी चटकाए हैं।

विराट कोहली

MS Dhoni and Virat Kohli

इस लिस्ट में दूसरा नाम पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का है जो इस समय दुनिया के दिग्गज बल्लेबाजों की सूचि में शुमार हैं। कोहली को एमएस धोनी (MS Dhoni) का बेहद ही करीबी खिलाड़ी बताया जाता है। कोहली ने साल 2009 में टीम इंडिया के लिए डेब्यू किया था और उसके बाद से जब-जब वो बुरे दौर से गुजरे हैं तो धोनी ने उन्हें टीम से ड्रॉप होने से बचाया है और इस बात का खुलासा खुद कई बार विराट भी कर चुके हैं।

वहीं, विराट कोहली ने भी एमएस धोनी (MS Dhoni) को कभी निराश नहीं किया और हर बार कम बैक करते हुए दमदार प्रदर्शन किया। साल 2009 के बाद से लगातार कोहली वर्ल्ड क्रिकेट में टॉप-5 बल्लेबाजो में शुमार है। उनके आंकड़ों की बात की जाए तो कोहली 100 से ज्यादा टेस्ट, 260 वनडे और 97 टी20 मैच खेल चुके हैं। साथ ही वे शतक जड़ने के मामले में सिर्फ़ सचिन तेंदुलकर से पीछे हैं। विराट ने अबतक इंटरनेशनल क्रिकेट में 70 शतक जड़े हैं।

रोहित शर्मा

MS Dhoni and Rohit Sharma

इस लिस्ट में तीसरा नाम भारतीय कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का है जिनका करियर सवारने में एमएस धोनी (MS Dhoni) का अहम योगदान रहा है। एक समय था जब रोहित मध्यक्रम या निचले क्रम में बल्लेबाजी करते थे लेकिन वो धोनी ही थे जिन्होंने रोहित को टीम में बतौर सलामी बल्लेबाज मौका दिया और आज यह दिग्गज खिलाड़ी हिट मैन के नाम से मशहूर है।

इस समय रोहित शर्मा दुनिया के वर्ल्ड क्लास बल्लेबाजों की लिस्ट में शुमार हैं। उनके नाम वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक दर्ज हैं और उनके एकदिवसीय मैच में सर्वाधिक निजी स्कोर 264 का है, जिसके करीब भी आजतक कोई बल्लेबाज नहीं पहुंच पाया है। वर्तमान समय में वो भारत के तीनों फॉर्मेट के कप्तान हैं। ऐसे में यह कहना गलता नहीं होगा कि रोहित का करियर बनाने में एमएस धोनी (MS Dhoni) का अहम योगदान रहा है।