4 घटनाएँ जब क्रिकेटरों का हुआ भूतों से सामना, महेंद्र सिंह धोनी के साथ भी घटी थी डरावनी घटना 1
Prev1 of 4
Use your ← → (arrow) keys to browse

आज हम आपको ऐसे 4 मौके जब क्रिकेटरों से आत्माओं का सामना हुआ. विज्ञान तथा वैज्ञानिक की मानें तो भूत-प्रेत मात्र मन का वहम होता है. इसके इतर अगर हम इसके बारे में थोड़ा विचार करें तो आप पाएँगे कि कई बार जब आप रात के 12 बजे के बाद किसी सूनसान रास्ते से गुजरते हैं, तो आपमें से कईयों को कभी न कभी ऐसा आभास जरूर हुआ होगा जैसे कोई व्यक्ती आपका पीछा कर रहा है. यह सुनकर आप अपनी गति को और अधिक तेज कर देते हैं तथा चाह कर भी अपने आपको पीछे देखने से नहीं रोक पाते हैं.

आपके मन में उस समय भय घर कर लेता है. यह मात्र वहम हो सकता है, लेकिन कई बार विज्ञान भी इस रहस्य को नहीं जान पाता है. इसी क्रम में आज आपसे क्रिकेटर्स की बात तो होगी लेकिन इसमें क्रिकेट का जिक्र नहीं होगा. जिक्र होगा तो सिर्फ क्रिकेटर्स के साथ हुए ऐसे ही 4 खौफनाक अनुभवों का, जिसे सुनकर आपके पैरो तले जमीन खिसक जायेगी.

4) शेन वाटसन 

4 घटनाएँ जब क्रिकेटरों का हुआ भूतों से सामना, महेंद्र सिंह धोनी के साथ भी घटी थी डरावनी घटना 2
SHANE WATSON

क्रिकेटर्स के साथ हुए 5 खौफनाक अनुभवों में से एक के साक्षी शेन वाटसन हैं. वाटसन की यह दिल दहला देनी वाली सच्ची वारदात सुनकर शायद आप भी हैरान हो जाएँ. दरअसल यूरोप में एक शानदार होटल है, जिसका नाम है लुम्ली कैसल, उसके बारे में कहा जाता है कि इसमें सदियों से लिली की आत्मा भटकती है. लिली एक औरत थी जिसका पति सैनिक था. वह युद्ध में लड़ने के लिए गया हुआ था, जहां उसकी मृत्यु हो जाती है.

4 घटनाएँ जब क्रिकेटरों का हुआ भूतों से सामना, महेंद्र सिंह धोनी के साथ भी घटी थी डरावनी घटना 3

कहा जाता है कि उसके पति की मृत्यु के  बाद उस औरत पर दो पादरियों (फादर ऑफ़ चर्च) ने दबाव डाला कि वो अपना घर छोड़कर कैथोलिक वन जाए, जिससे वह उस घर में अपना कब्जा कर सकें पर लिली काफी हठी तथा निडर थी और उसने उन पादरियों की बात नहीं मानी. इस पर गुस्सा होकर उन पादरियों ने उसे पास के ही कुएं में फेंक दिया था, जिसमें नाम मात्र का ही पानी था. लिली की उस कुँए में ही मौत हो गयी. ये घटना 14वें सदी की है और उसके बाद से ऐसा कहा जाता है कि उसकी आत्मा रोज उस कुएं से निकल कर कैसल के कॉरिडोर में घुमती है.

वॉटसन यूरोप मैच खेलने के लिए गए हुए थे. उन्होंने ऊसी होटल को बुक किया था. वाटसन को होटल का 46 नंबर का कमरा मिला था, जहां उन्होंने अपने बिस्तर के पास लिली की आत्मा को देखा. वह इतना डर गए कि अपने कमरे को छोड़कर ब्रेट ली के कमरे में जमीन पर जाकर सो गए थे. बताया जाता है कि 46 नंबर कमरे में ही लिली को मारने से पहले प्रताड़ित किया गया था. इस कहानी के गवाह बने हैं ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज शेन वाटसन. वाटसन ने खुद कहा कि उन्होंने कुछ देखा है पर अगले ही पल वे कहते हैं कि शायद ये मेरा वहम भी हो सकता है.

Prev1 of 4
Use your ← → (arrow) keys to browse

Ashutosh Tripathi

Sport Journalist