सीएसके

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की सबसे सफल टीमों में से एक चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को 13वें संस्करण की तैयारियां करनी हैं, लेकिन सीएसके के तैयारी अभियान को बड़ा झटका लगा है. दरअसल, सीएसके में शामिल विदेशी खिलाड़ी ट्रेनिंग कैंप का हिस्सा नहीं होंगे. ना तो वे चेन्नई में आयोजित होने वाले एक छोटे कैंप का हिस्सा हो पाएंगे और न ही वे संयुक्त अरब अमीरात यानी यूएई में टूर्नामेंट से पहले होने वाले प्रैक्टिस कैंप का हिस्सा होंगे.

दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों ने किया मुश्किलों में इजाफा

आईपीएल 2020

तीन बार की आइपीएल चैंपियन टीम सीएसके टूर्नामेंट के आगामी संस्करण की शुरुआत से पहले ट्रेनिंग कैंप का संचालन करने में कठिनाई महसूस कर सकती है. दक्षिण अफ्रीका के हालिया घटनाक्रम के अनुसार, फाफ डु प्लेसिस और लुंगी एनगिडी के संयुक्त अरब अमीरात में देर से सीएसके टीम में शामिल होने की उम्मीद है.

साउथ अफ्रीकाई खिलाड़ियों के अलावा कई और विदेशी खिलाड़ी भी देर से सीएसके कैंप का हिस्सा हो पाएंगे. बता दें कि चेन्नई सुपर किंग्स का प्रारंभिक फिटनेस कैंप 15 भारतीय खिलाड़ियों की उपस्थिति में चेन्नई के एम चिदंबरम स्टेडियम में आयोजित किया जाएगा, जिसका आगाज 15 अगस्त से होना है.

ड्वेन ब्रावो, इमरान ताहिर और मिशेल सैंटनर पर भी संशय

चेन्नई सुपर किंग्स की बढ़ी मुश्किलें, इन खिलाड़ियों ने किया है टीम की समस्याओं में इजाफा 1

चेन्नई सुपर किंग्स की बढ़ी मुश्किलें, इन खिलाड़ियों ने किया है टीम की समस्याओं में इजाफा 2

चेन्नई सुपर किंग्स टीम के अहम सदस्य और दिग्गज ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो, इमरान ताहिर और मिशेल सैंटनर की कैंप में भागीदारी, उनके कैरेबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) प्रतिबद्धताओं के कारण संदिग्ध बनी हुई है. सीपीएल का आठवां संस्करण 18 अगस्त से शुरू होगा और 10 सितंबर तक खेला जाएगा. ऐसे में ये खिलाड़ी भी देर से यूएई पहुंचने वाले हैं.

वहीं, टीम के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग, माइकल हसी और ऑलराउंडर शेन वॉटसन 22 अगस्त को यूएई पहुंच जाएंगे. आइपीएल की अलग-अलग टीमों में शामिल ऑस्ट्रेलियाई और इंग्लैंड के खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं के कारण सितंबर के बीच में यूएई पहुंचेंगे, क्योंकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच सितंबर में 3-3 मैचों की वनडे और टी20 सीरीज खेली जाएगी.

साक्षी-जीवा के बिना यूएई जाएंगे धोनी

चेन्नई सुपरकिंग

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और चेन्नई सुपरकिंग्स के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी और बेटी जीवा उनके साथ इस साल आईपीएल के लिए यूएई में नहीं जाएंगी. ये फैसला कोरोना की महामारी को देखते हुए लिया गया है. माही का कोविड टेस्ट नेगेटिव आया है और वो 15 अगस्त को टीम के कैंप में शिरकत करने वाले हैं.

जबकि 21 अगस्त को चेन्नई सुपरकिंग्स की पूरी टीम चार्डर्ट प्लेन से यूएई के लिए रवाना होने वाली है. आईपीएल 2020 की चेन्नई पहली टीम होगी जो यूएई जाएगी जिसके बाद अगस्त के आखिरी हफ्ते में वो वहां पर प्रैक्टिस कैंप लगा सकती है. बीसीसीआई पहले ही सभी फ्रेंचाइजियों को 20 अगस्त के बाद यूएई जाने की मंजूरी दे चुका है.

Ashutosh Tripathi

Sport Journalist