मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता

मौजूदा समय में स्टीव स्मिथ, विराट कोहली, केन विलियमसन, जो रूट जैसे खिलाड़ियों को उनके अच्छे प्रदर्शन पर खूब लाइमलाइट मिलती है. हालांकि मौजूदा समय में कुछ ऐसे खिलाड़ी भी है, जो निरंतर अच्छा प्रदर्शन तो कर रहे हैं, लेकिन उन्हें वह लाइमलाइट  नहीं मिल पाती, जिसके वह हकदार है. इनको वर्तमान समय का अंडररेटेड खिलाड़ी कहा जा सकता है और आज हम आपकों अपने इस ख़ास लेख में विश्व के 10 अंडररेटड खिलाड़ियों के बारे में ही बताएंगे.

भुवनेश्वर कुमार

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 1

भुवनेश्वर कुमार वर्तमान समय में 140 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से भी गेंदबाजी करने की क्षमता रखते हैं और गेंद को दोनों तरफ बेहतरीन तरीके से स्विंग भी कराते हैं.

भुवनेश्वर कुमार का अब तक का क्रिकेट करियर शानदार रहा है. उन्होंने भारत के लिए 21 टेस्ट मैचों में 63 विकेट हासिल किये हैं. वहीं अपने खेले 114 वनडे मैचों में 132 विकेट हासिल किये हैं. अपने खेले 43 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में उन्होंने 41 विकेट हासिल किये हैं. आईपीएल के 117 मैचों में भी वह 133 विकेट हासिल कर चुके हैं.

हालांकि अपने इस शानदार प्रदर्शन के बावजूद जसप्रीत बुमराह की स्टारडम में वह खो जैसे जाते हैं. इनके प्रदर्शन पर उस तरह की चर्चा नहीं हो पाती, जो जसप्रीत बुमराह या अन्य गेंदबाजों के प्रदर्शन पर होती है.

टॉम लैथम

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 2

टॉम लैथम न्यूजीलैंड के ओपनर बल्लेबाज है और अब तक अपने खेले 52 टेस्ट मैचों में 42.24 की औसत से 3726 रन बना चुके हैं. एक ओपनर के तौर पर टॉम लैथम का यह टेस्ट औसत काफी अच्छा है.

हालांकि 52 टेस्ट मैचों में 42 से ज्यादा की औसत के बावजूद वह अब तक एक बड़े खिलाड़ी का सम्मान प्राप्त नहीं कर पाए हैं. केन विलियमसन और मार्टिन गुप्टिल जैसे स्टार बल्लेबाजों की उपस्थिति में वह अब तक एक अंडररेटड खिलाड़ी बनकर ही रह गए हैं.

दिमुथ करुणारत्ने

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 3

दिमुथ करुणारत्ने टेस्ट क्रिकेट में श्रीलंकाई टीम का अहम हिस्सा है. उन्होंने अपने खेले 66 टेस्ट मैचों में 36.78 की औसत से 4524 रन बनाये हुए हैं. उन्होंने श्रीलंका के लिए अपने खेले 31 वनडे मैचों में 27.32 की औसत व 74.16 के स्ट्राइक रेट से 683 रन बनाये हुए हैं.

दिमुथ करुणारत्ने टेस्ट क्रिकेट में श्रीलंकाई टीम लगातार रन बना रहे हैं. वह 9 शतक और 24 अर्धशतक भी टेस्ट क्रिकेट में अब तक बना चुके हैं, लेकिन इन्हें भी क्रिकेट जगत एक अंडररेटेड खिलाड़ी के तौर पर ही देखता है.

जेसन होल्डर

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 4

जेसन होल्डर वेस्टइंडीज के लिए बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों से ही टीम के लिए योगदान करते हैं. पिछले 2 साल से उनकी क्रिकेट में काफी सुधार आया है.

हालांकि जेसन होल्डर को अब भी उसी नजर से देखा जाता है, जैसे पहले देखा जाता था. वक्त के साथ जेसन होल्डर की क्रिकेट बहुत ज्यादा बेहतर हो चुकी है, लेकिन अब तक अंडररेटेड खिलाड़ी का टैग वह अपने नाम से हटा नहीं पाए हैं.

रॉस टेलर

टेस्ट

रॉस टेलर वर्तमान समय में विश्व क्रिकेट के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में से एक है. साल 2007 से वह टेस्ट क्रिकेट खेल रहे हैं और लगातार न्यूजीलैंड की टीम के लिए रन बना रहे हैं.

अपने अब तक के 101 टेस्ट मैचों के करियर में उन्होंने 46.10 की शानदार औसत से 7238 रन बना लिए हैं. 19 शतक और 33 अर्धशतक वह अपने टेस्ट करियर में लगा चुके हैं.

रॉस टेलर निरंतर न्यूजीलैंड के लिए रन बना रहे हैं, लेकिन अपने पूरे क्रिकेट करियर कर दौरान वह एक अंडररेटेड खिलाड़ी के तौर पर ही नजर आए हैं.

आरोन फिंच

आरोन फिंच

आरोन फिंच ऑस्ट्रलिया टीम के लिए अबतक 5 टेस्ट मैच, 126 वनडे मैच और 61 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं. अपने खेले 5 टेस्ट मैचों में उन्होंने 27.80 की औसत से 278 रन बनाये हुए हैं.

वहीं 126 वनडे मैचों में उन्होंने 41.03 की शानदार औसत से 4882 रन ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए बनाये हुए हैं. वह ऑस्ट्रेलिया टीम के लिए 61 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी खेल चुके हैं. जिसमे उन्होंने 38.25 की शानदार औसत से 1989 रन बनाये हुए हैं.

एक बार विकेट पर टिकने के बाद आरोन फिंच खुलकर बल्लेबाजी करते हैं और गेंदबाजों की धज्जियां उधेड़ देते हैं. हालांकि डेविड वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ जैसे खिलाड़ियों के रहते उनकी बात बहुत कम हो पाती है.

लियाम प्लुन्केट

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 5

लियाम प्लुन्केट ने पिछले 2-3 सालों में इंग्लैंड के लिए शानदार गेंदबाजी की है और इंग्लैंड की टीम को कई मैचों में जीत दिलाई है. अगर आज इंग्लैंड की टीम वनडे क्रिकेट में नंबर-1 स्थान पर है, तो इसमें लियाम प्लुन्केट का भी एक बड़ा हाथ रहा है. इन्होने गेंद के साथ, तो कमाल किया ही है. साथ ही जरुरत पड़ने पर बल्ले के साथ भी टीम के लिए योगदान दिया है.

हालांकि क्रिस वोक्स और जोफ्रा आर्चर जैसे गेंदबाजों के बीच लियाम प्लुन्केट की चर्चाएँ इतनी ज्यादा नहीं हुई है और ये खिलाड़ी भी एक अंडररेटेड खिलाड़ी बनकर रह गया है.

असद शफीक

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 6

पाकिस्तान के मध्यक्रम के बल्लेबाज असद शफीक अब तक कुल 74 टेस्ट मैच खेल चुके हैं, जिसमे इन्होने 39.26 की औसत से 4593 रन बना लिए हैं. असद शफीक ने टेस्ट क्रिकेट में 12 शतक और 27 अर्धशतक बनाए हुए हैं.

उन्होंने अपने टेस्ट करियर में अधिकतर बल्लेबाजी नंबर-6 पर की है. इस पोजीशन पर बल्लेबाजी करना किसी भी बल्लेबाज के लिए काफी मुश्किल रहता है, लेकिन इसी पोजीशन पर असद शफीक ने खुद को बेहतरीन तरीके से साबित किया है. हालांकि ये खिलाड़ी भी अपने क्रिकेट करियर में काफी अंडररेटेड रहा है.

बीजे वाटलिंग

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 7

न्यूजीलैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज बीजे वाटलिंग का रिकॉर्ड भी बेहद शानदार है. बीजे वाटलिंग 70 टेस्ट मैचों में 38.51 की औसत से 2658 रन बना चुके हैं. बीजे वाटलिंग ने टेस्ट क्रिकेट में 8 शतक भी बनाए हुए हैं, जिसमे से एक दोहरा शतक भी है.

एक विकेटकीपर होने के बावजूद टेस्ट क्रिकेट में 38 से ज्यादा का औसत बताता है कि वह किस दर्जे के खिलाड़ी है. हालांकि अब तक क्रिकेट प्रेमी इन्हें भी अंडररेट ही करते आए हैं. अब तक इन्हें भी वह सम्मान नही मिल पाया है, जिसके वह हकदार है.

दिनेश कार्तिक

मौजूदा समय में विश्व क्रिकेट के 10 अंडररेटेड खिलाड़ी, जिनके प्रदर्शन को नहीं मिलती महत्वता 8

दिनेश कार्तिक का टी-20 रिकॉर्ड भारत के लिए खेलते हुए काफी शानदार है. उन्होंने भारत के लिए 32 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हुए हैं, जिसमे उन्होंने 33.25 की शानदार औसत और 143.52 के स्ट्राइक रेट से 399 रन बनाए हुए हैं.

दिनेश कार्तिक का यह औसत और स्ट्राइक रेट काफी शानदार है. हालांकि रोहित शर्मा और विराट कोहली जैसे खिलाड़ियों के स्टारडम में दिनेश कार्तिक अपना नाम नहीं बना पाए और एक अंडररेटेड खिलाड़ी बनकर रह गए हैं.

दुर्भाग्यवश वह अपने इस शानदार रिकॉर्ड के बावजूद मौजूदा समय में भारत की टी-20 टीम से भी बाहर चल रहे हैं. अब वह चयनकर्ताओं के विचारों में भी नहीं दिख रहे हैं.

Related posts