डे-नाईट टेस्ट में ओस की नहीं रहेगी समस्या: ईडन गार्डन पिच क्यूरेटर

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

ईडन गार्डन पिच के क्यूरेटर ने बताया पहले डे-नाईट टेस्ट में किसकी मददगार होगी कोलकाता की पिच 

ईडन गार्डन पिच के क्यूरेटर ने बताया पहले डे-नाईट टेस्ट में किसकी मददगार होगी कोलकाता की पिच

22 से 26 नवंबर के बीच होने वाले ईडन गार्डन टेस्ट को बीसीसीआई डे-नाईट टेस्ट में आयोजित करना चाहती है, जिसके लिए बीसीसीआई ने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को इसका प्रस्ताव भी भेजा था. बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड डे-नाईट टेस्ट खेलने के लिए तैयार हो गया है. अब इस टेस्ट सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच डे-नाईट होगा.

ओस की नहीं रहेगी समस्या

ईडन गार्डन पिच के क्यूरेटर ने बताया पहले डे-नाईट टेस्ट में किसकी मददगार होगी कोलकाता की पिच 1

ईडन गार्डन के पिच क्यूरेटर सुजान मुखर्जी ने अपने एक बयान में कहा, “मैच को अगर थोड़ा जल्दी शुरु किया जाता है, तो पूरा दिन 8-8.30 बजे तक खत्म हो जाएगा. हमने ईडन गार्डन में सफेद गेंद की क्रिकेट के साथ देखा है, कि ओस 8-8.30 बजे के बाद ही आती है, इसलिए, मुझे नहीं लगता, कि इस मैच के दौरान ओस एक समस्या होगी. अगर ओस आती भी है, तो हमारे पास उससे निपटने के लिए अच्छी व्यवस्था भी है.”

तेज गेंदबाजों को अधिक स्विंग मिलेगा

ईडन गार्डन पिच के क्यूरेटर ने बताया पहले डे-नाईट टेस्ट में किसकी मददगार होगी कोलकाता की पिच 2

पिच क्यूरेटर सुजान मुखर्जी ने पिंक बॉल के जल्दी खराब होने के सवाल का जवाब देते हुए कहा, “जब हमने यहां CAB लीग फाइनल का आयोजन किया था, तब गेंद खराब नहीं हुई थी. गेंद ठीक थी. हां, गुलाबी गेंद के साथ, यहां तेज गेंदबाजों को अधिक स्विंग मिलेगा.

बता दें, कि बंगाल क्रिकेट एशोसिएशन ने मोहन बगान और भवानीपुर क्लब का एक चार दिन का डे-नाईट मैच कराया था. जिसमे मोहम्मद शमी ने 5 विकेट हॉल भी हासिल किया था.

उनकी तैयारी के बारे में पूछे जाने पर अनुभवी क्यूरेटर ने कहा, “मेरी तैयारी उसी तरह है जैसे मैं किसी भी दिन के खेल के लिए करता हूं, मैं पिच को अच्छे खेल के लिए बनाऊंगा. हमारे पास ईडन में अच्छी पिचें हैं. हम उन्हें में से एक को तैयार करेंगे. “

हमें विश्वास है कि यह भीड़ को स्टेडियम में लाएगा

ईडन गार्डन पिच के क्यूरेटर ने बताया पहले डे-नाईट टेस्ट में किसकी मददगार होगी कोलकाता की पिच 3

सौरव गांगुली ने मंगलवार को डे-नाईट टेस्ट को लेकर कहा, “डे-नाइट टेस्ट क्रिकेट एक बहुत बड़ा कदम है और हमें विश्वास है कि यह भीड़ को स्टेडियम में लाएगा और बहुत सारे छोटे बच्चों की क्रिकेट में दिलचस्पी बढ़ाएगा.”

Related posts