डीन एल्गर ने बताया अपनी 160 रन की शानदार पारी का असली राज

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भारत में भारत के खिलाफ खेलना है काफी मुश्किल: डीन एल्गर 

भारत में भारत के खिलाफ खेलना है काफी मुश्किल: डीन एल्गर

विशाखापत्तनम टेस्ट मैच में साउथ अफ्रीका के ओपनर बल्लेबाज डीन एल्गर ने 160 रन का एक बेहतरीन शतक लगाया है. उन्होंने अपनी इस पारी के दौरान 18 चौके और 4 छक्के लगाये. उनके टेस्ट क्रिकेट करियर का यह 12वां शतक था. उनकी इस शानदार पारी के दम पर भारत के 502 रन के जवाब में साउथ अफ्रीका ने तीसरे दिन का खेल खत्म हो जाने तक अपनी दूसरी पारी में 8 विकेट के नुकसान पर 385 रन बना लिए है.

टीम के लिए योगदान देकर हूँ खुश

भारत में भारत के खिलाफ खेलना है काफी मुश्किल: डीन एल्गर 1

तीसरे दिन के खेल के बाद संजय मांजरेकर को दिए गए अपने एक इंटरव्यू में डीन एल्गर ने कहा,

“टीम के लिए योगदान देकर काफी अच्छा लग रहा है. भारत में खेलना हमेशा कठिन होता है. मैं आज अपने पिछले दौरे को भी याद कर रहा हूँ. जब मैं 2015 में यहां आया था, तब मैं थोड़ा कम अनुभवी था, लेकिन इन चार सालों में मैंने एक क्रिकेटर के रूप में खुद को विकसित किया है और अब मेरे पास इन कंडीशन में खेलने का अच्छा अनुभव है.”

काउंटी क्रिकेट खेलकर हुआ फायदा

भारत में भारत के खिलाफ खेलना है काफी मुश्किल: डीन एल्गर 2

डीन एल्गर ने आगे अपने इस इंटरव्यू में कहा,

“मैंने दुनिया भर में बहुत सारी क्रिकेट खेली है. काउंटी क्रिकेट भी मैं खेल चूका हूँ. मुझे लगता है कि इससे मुझे स्पिन गेंदबाजी खेलने में बहुत कुछ सीखने को मिला है. 

व्यक्तिगत दृष्टिकोण से मेरे लिए कुछ सकारात्मक संकेत है कि मैं एक खिलाड़ी के रूप में आगे बढ़ रहा हूं, लेकिन अधिक महत्वपूर्ण बात यह है कि आपके योगदान से टीम को फायदा हो.”

2015 की पिचें नहीं थी बल्लेबाजी लायक

भारत में भारत के खिलाफ खेलना है काफी मुश्किल: डीन एल्गर 3

डीन एल्गर ने 2015 के पिचों की आलोचना करते हुए कहा, “पिछली टेस्ट सीरीज में जब हम यहां आये थे, तो बहुत ही कठिन विकेट दी गई थी. शायद कोई भी ऐसी विकेट पर नहीं खेलना चाहेगा, लेकिन इस बार पहले टेस्ट में अच्छा विकेट मिला है.

मुझे हमेशा लगता था, कि मैं अच्छी तरह से स्पिन खेलता हूं. मैंने स्पिनरों के खिलाफ थोड़ा आक्रमक रवैया अपनाया, इससे आप गेंदबाजों पर दबाव बना सकते हो और स्कोर बनाने के अवसर प्राप्त करते हो, मैंने सरे काउंटी टीम के साथ जो वक्त बिताया है उसने मुझे यहां काफी मदद की है.”

Related posts