दीपक चाहर हो सकते हैं आईपीएल 2020 से बाहर 1

भारतीय तेज गेंदबाज दीपक चाहर गंभीर रूप से चोटिल हो गए. ऐसे में दीपक का आईपीएल 2020 में खेलने में संशय बना हुआ है. भारतीय टीम के शलामी बल्लेबाज शिखर धवन तथा मुख्य तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार पहले से ही चोट के चलते सीरीज से बाहर चल रहे है.

ऐसे में टीम इंडिया दीपक चाहर के चोटिल होने से बड़ा झटका लग गया है. आपको बता दें कि भारतीय तेज गेंदबाज दीपक चाहर गंभीर रूप से चोटिल हो गए. ऐसे में दीपक का आईपीएल 2020 में खेलने में संशय बना हुआ है.

आईपीएल 2020 से हो सकते हैं बाहर

दीपक चाहर हो सकते हैं आईपीएल 2020 से बाहर 2

सूत्रों के मुताबिक दीपक चाहर की चोंट को ठीक होने में लगभग 4 से 5 महीने लग सकते हैं. वहीं आईपीएल की शुरुआत अप्रैल के पहले सप्ताह से में हो सकती है. ऐसे में दीपक का आईपीएल में खेलना शायद मुश्किल होगा. आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग के लिए दीपक चाहर मुख्य तेज गेंदबाज हैं. दीपक चाहर का आईपीएल 2020 में न खेलना चेन्नई की टीम के लिए बड़ा घाटा हो सकता है.

पावरप्‍ले के मास्‍टर हैं दीपक चाहर

दीपक चाहर हो सकते हैं आईपीएल 2020 से बाहर 3

दीपक चाहर हो सकते हैं आईपीएल 2020 से बाहर 4

आईपीएल तथा अंतरराष्‍ट्रीय टी20 मैचों में दीपक चाहर ने पावरप्‍ले में कमाल की गेंदबाजी की है. उन्‍होंने भारत के लिए 8 पारियों में 8 विकेट लिए हैं. इस दौरान उनकी इकनॉमी 5.55 की रही है और स्‍ट्राइक रेट 13.5 की है. आईसीसी के पूर्णकालिक देशों में 122 तेज गेंदबाजों ने पावरप्‍ले में बॉलिंग की है और किसी की भी इकनॉमी रेट दीपक चाहर से बेहतर नहीं है.

दीपक चाहर ने हालही में लिए थे 5 गेंदों में 4 विकेट

दीपक चाहर हो सकते हैं आईपीएल 2020 से बाहर 5

भारतीय तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने वेस्‍टइंडीज के खिलाफ हैदराबाद टी20 मुकाबले में इतिहास रचा था.. उन्‍होंने अपनी दूसरी ही गेंद पर लेंडल सिमंस को स्लिप में कैच कराया. यह उनका अंतरराष्‍ट्रीय टी20 मैचों में आखिरी 5 गेंदों में चौथा विकेट था. बांग्‍लादेश ( के खिलाफ नागपुर टी20 मुकाबले में उन्‍होंने अपनी आखिरी 3 गेंदों पर 3 विकेट लिए थे.

बुमराह तथा भुवनेश्वर कि नहीं खलने दी कमी

दीपक चाहर हो सकते हैं आईपीएल 2020 से बाहर 6

इसके बाद शुक्रवार को वेस्‍टइंडीज के खिलाफ उन्‍होंने पहली गेंद पर कोई रन नहीं दिया और फिर विकेट झटक लिया था. इसी कारण दक्षिण अफ्रीका और बांग्‍लादेश के खिलाफ सीरीज शानदार प्रदर्शन के जरिए उन्‍होंने टी20 में खुद को बुमराह तथा भुवनेश्वर की अनुपस्थिति में टीम इंडिया का मुख्‍य गेंदबाज साबित किया था.