"इससे खून बहता था और मेरा चेहरा भी सूज गया था..." दीपक चाहर ने सुनाई इंजरी के दौरान हुए संघर्षों की कहानी
"इससे खून बहता था और मेरा चेहरा भी सूज गया था..." दीपक चाहर ने सुनाई इंजरी के दौरान हुए संघर्षों की कहानी

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज दीपक चाहर (Deepak Chahar) लम्बे समय तक चोटिल रहने के बाद जल्द ही टीम में वापसी कर सकते हैं. चाहर ने चोट के कारण फरवरी के बाद से कोई भी मुकाबला नहीं खेला है. वह इस साल के इंडियन प्रीमियर लीग में भी चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा नहीं थे.

आईपीएल के बाद साउथ अफ्रीका और वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में भी वह टीम का हिस्सा नहीं बन पाए थे. वहीं, दीपक चाहर ने हाल ही में एक न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में अपनी इंजरी और उससे जूझने में होने वाली कठिनाइयों को लेकर बातचीत की.

Deepak Chahar ने सुनाई इंजरी के दौरान हुए संघर्षों की कहानी

Deepak Chahar ने सुनाई इंजरी के दौरान हुए संघर्षों की कहानी
Deepak Chahar ने सुनाई इंजरी के दौरान हुए संघर्षों की कहानी

दरअसल, इस साल फरवरी में वेस्टइंडीज के खिलाफ T20I से पहले दीपक चाहर एक बार फिर चोटिल हो गए. उस चोट से उबरने के लिए उन्हें राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (NCA) ले जाया गया. क्वाड्रिसेप टियर नामक बीमारी से उबरने के दौरान चाहर को पीठ में एक स्ट्रेस फ्रैक्चर की शिकायत सामने आई. वह तकरीबन 5 महीने से अधिक समय तक टीम से बाहर रहे.

न्यूज 24 स्पोर्ट्स को दिए अपने एक इंटरव्यू में दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने सुनाई इंजरी के दौरान हुए संघर्षों की कहानी)ने खुलासा किया कि पिछले कुछ महीने उनके लिए कितने कठिन थे। चाहर ने खुलासा किया कि उन्होंने आईपीएल खेलने के लिए क्वाड्रिसेप टियर के बाद सर्जरी कराने का फैसला किया। उन्होंने कहा,

“यह बहुत कठिन समय था। जब मैं घायल हो गया, तो मुझे यह तय करना था कि सर्जरी करनी है या नहीं और मैंने इसके खिलाफ फैसला किया। मैं आईपीएल खेलना चाहता था। अगर मेरी सर्जरी हुई होती तो मैं आईपीएल नहीं खेलता। उसके बाद, मेरे दांतों में दर्द होने लगा। मैं रात को सो नहीं सका। मैं 3-4 पेन किलर लेता था।”

‘मेरा चेहरा भी सूज गया था’-दीपक चाहर

Deepak Chahar ने सुनाई इंजरी के दौरान हुए संघर्षों की कहानी
Deepak Chahar ने सुनाई इंजरी के दौरान हुए संघर्षों की कहानी

उन्होंने आगे कहा,

“इससे खून बहता था और मेरा चेहरा भी सूज गया था। जब मैंने उस दौर के बाद खेलना शुरू किया तो मुझे आईपीएल खेलने का भरोसा था। लेकिन फिर मुझे पीठ में चोट लग गई जो एक स्ट्रेस फ्रैक्चर निकला। स्ट्रेस फ्रैक्चर को ठीक होने में 4-5 महीने लगते हैं और मैं फिर से बिस्तर पर आ गया था। पिछले 5 महीने बहुत कठिन रहे हैं।”

बताते चलें कि दीपक चाहर को आगामी जिम्बाब्वे दौरे के लिए टीम इंडिया में शामिल किया गया है. वह पांच महीने बाद क्रिकेट के मैदान पर वापसी करेंगे. टी20 वर्ल्ड कप और एशिया कप के लिहाजे से दीपक चाहर के लिए ज़िम्बाब्वे दौरा अहम होने वाला है.

Ankit Kunwar

Sports Journalist At Sportzwiki || Sr. Content Editor || Content Producer