Deepak chahar Chennai Bowler who take wicket with DRS

भारतीय क्रिकेट टीम में इन दिनों एक से एक बेहतरीन युवा प्रतिभा देखने को मिल रही है। भारत के युवा खिलाड़ी विश्व क्रिकेट के सामने अपना जौहर दिखा रहे हैं, जिसमें से ही एक खिलाड़ी हैं राजस्थान के तेज गेंदबाज दीपक चाहर जिन्होंने अपने प्रदर्शन से खूब प्रभावित किया है।

दीपक चाहर कर रहे हैं जबरदस्त प्रदर्शन

दीपक चाहर धीरे-धीरे भारतीय टी20 फॉर्मेट की टीम में अपना स्थान सुरक्षित करते जा रहे हैं जो मौके को जबरदस्त तरीके से भुना रहे हैं। अब तक के टी20 करियर में दीपक चाहर खूब चमके हैं।

दीपक चाहर
दीपक चाहर

हाल ही में राजस्थान के इस युवा तेज गेंदबाज ने टी20 क्रिकेट के एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया। जिसमें उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ नागपुर टी20 मैच में केवल 7 रन देकर 6 सफलताएं हासिल की जो टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी है।

दीपक चाहर के पिता ने धोनी को दिया अपने बेटे की सफलता का श्रेय

दीपक चाहर को पहली बार साल 2018 के आईपीएल में पहचान मिली। आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा दीपक चाहर ने आईपीएल के उस सीजन में जबरदस्त प्रदर्शन किया। महेन्द्र सिंह धोनी के मार्गदर्शन में दीपक लगातार ऊंचाईयों को छूते गए।

दीपक चाहर के पिता ने कहा, मेरा बेटा आज जो कुछ भी है वो धोनी की वजह से है 1
दीपक चाहर

इसी प्रदर्शन के दम पर उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम में मौका मिला और धोनी की सलाह पर अपनी गेंदबाजी से कमाल का प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी कारण से दीपक के पिता लोकेन्द्र चाहर भी अपने बेटे की सफलता का श्रेय धोनी को देते हैं।

धोनी ने दीपक की काबिलियत को दिखाया दुनिया में

द क्विंट के साथ बातचीत के दौरान दीपक चाहर के पिता लोकेन्द्र चाहर ने कहा कि “सभी का एक रोल होता है। दीपक और मैंने उन्हें काबिल बनाने के लिए कड़ी मेहनत की तो धोनी ने उस काबिलियत को दुनिया को दिखाने का काम किया।”

दीपक चाहर के पिता ने कहा, मेरा बेटा आज जो कुछ भी है वो धोनी की वजह से है 2

लोकेन्द्र चाहर के साथ ही खुद दीपक चाहर भी अपने प्रदर्शन के लिए धोनी का श्रेय मानते हैं।। उन्होंने पिछले ही दिनों कहा था कि” जब मैच रोमांचक स्थिति में होता है तो वो आईपीएल में दिए गए धोनी के टिप्स को याद करते हैं। मैं अपनी सफलता का पूरा श्रेय आईपीएल और चेन्नई सुपर किंग्स में धोनी भाई से मिले टिप्स को देना चाहूंगा। बल्लेबाज की सोच को पढ़कर उसे कैसे गेंदबाजी करनी है ये सब मुझे इंटरनेशनल क्रिकेट मेें मदद कर रही है।”