श्रेयस अय्यर ने मुंबई के खिलाफ जीत का श्रेय ऋषभ पंत को नहीं, बल्कि इन दो खिलाड़ियों को दिया

kalpesh kalal / 20 May 2018

इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन में रविवार को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में मुंबई इंडियंस और दिल्ली डेयर डेविल्स के बीच मुकाबला खेला गया। इस मैच में  दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया।

PC_BCCI

दिल्ली ने मुंबई को हराकर दिखाया बाहर का रास्ता

दिल्ली डेयरडेविल्स टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरी। दिल्ली डेयरडेविल्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए अपने निर्धारित 20 ओवर में 174 रनों का स्कोर खड़ा किया। इसके जवाब में मुंबई इंडियंस अपनी पूरी कोशिश के बाद भी 11रनों से मैच गंवाकर प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो गई।

PC_BCCI

डेयरडेविल्स ने खड़ा किया 174 रनों का स्कोर

आईपीएल में प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो चुकी दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए ग्लेन मैक्सवेल और पृथ्वी शॉ ने पारी की शुरूआत की लेकिन शुरूआत अच्छी नहीं रही। इसके बाद पंत और अय्यर ने पारी को जरूर संभाला लेकिन दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए असली काम किया ऋषभ पंत और विजय शंकर की जोड़ी ने। इस जोड़ी ने शानदार साझेदारी कर दिल्ली डेयरडेविल्स के स्कोर को 20 ओवर में 174 रनों तक पहुंचाया। पंत ने 64 और विजय शंकर ने 43 रनों की पारी खेली।

PC_BCCI

मुंबई की हार के साथ ही प्लेऑफ की उम्मीदें हुई खत्म

अपने करो या मरो के मैच में मुंबई इंडियंस की टीम इस लक्ष्य के जवाब में खेलने उतरी। मुंबई इंडियंस को पहला झटका पहले ही ओवर में लगा। इसके बाद ईविन लेविस ने ईशान किशन के साथ पारी को तेजी के साथ स्कोर को चलाने में कामयाब रहे। मुंबई का स्कोर छठे ओवर में 57 रन पर जा पहुंचा लेकिन इसके बाद दिल्ली ने वापसी की और एक के बाद एक विकेट लेकर स्कोर को 78 पर 5 विकेट कर दिया।

इसके बाद हार्दिक और रोहित ने कुछ अच्छे शॉट्स लगाकर एक बार फिर से मैच मुंबई की ओर मोड़ दिया। रोहित और हार्दिक के आउट होने के बाद बेन कटिंग ने तूफानी पारी खेल मैच को पूरी तरह से मुंबई की गिरफ्त में कर दिया। लेकिन अंतिम ओवर में बेन कटिंग के आउट होते ही मुंबई की प्लेऑफ की उम्मीदों पर पानी फिर गया।

PC_BCCI

स्पिनरों ने किया बेहतरीन काम

जीत के बाद दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा कि

“हां इस जीत से बहुत ही संतुष्टी हो रही है। वो वास्तव में क्वालीफाई के लिए खेल रहे थे और ऐसी टीम को हराकर संतुष्टी हो रही है। अगर इस ट्रेक की बात करें तो ये एक पर्याप्त स्कोर था क्योंकि विकेट बहुत धीमा था और इसमें असमान उछाल था। इस पर खासकर स्पिनरों ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की। खासकर मिश्रा और संदीप लामिछने ने बहुत अच्छा काम किया। जब भी मैंने उनको गेंदबाजी के लिए बुलाया वो हमेशा तैयार रहे। “

PC_BCCI

पिच पर था बहुत टर्न

“हां हम जानते थे, कि दूसरी पारी में गेंद टर्न करेगी और हम पिछले कुछ दिनों से यहां पर हैं और हम इस पिच के मिजाज को जानते थे। इस सीजन में हमें खास तौर पर अंडर-19 की विशेष प्रतिभा दिखी। टीम का वातावरण अच्छा करने की जिम्मेदारी मुझ पर थी. रिकी पोटिंग सर और दूसरे सपोर्ट स्टाफ ने बहुत मेहनत की।”

 

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आए तो प्लीज इसे लाइक और शेयर करें।