फिर सामने आया आईपीएल में सट्टेबाजी का मामला, छह लोग गिरफ्तार 1

आईपीएल के दौरान सट्टेबाजी का काफी पुराना इतिहास रहा है जब भी आईपीएल शुरू होता है तब पूरे देश में इस तरह की गतिविधियाँ काफी जोर पकड़ लेती है एवं पूरे देश में काफी जगह से लोग इस गलत काम को करते हुए पाए जाते है जिसके बाद उन्हें इस काम के लिए सजा भी हो जाती है लेकिन पुलिस के लिए हर आईपीएल सीजन में इस तरह की गतिविधयों को रोकना काफी कठिन हो जाता है.आईपीएल मैच के दौरान फिर सुर्ख़ियों में आया फिक्सिंग का साया, एक शख्स को गवानी पड़ी अपनी जान

युवा शामिल हो रहे है इस गलत काम में

आईपीएल में सट्टेबाजी करने में इस समय युवा लोग काफी शामिल है क्योकि वे इस खेल को अपने मनोरंजन के लिए नहीं देखते है बल्कि इसलिए ताकि कुछ पैसा कमाया जा सके क्योकि इसमें पैसा लगाने पर यदि वे जीत जाते है तो उन्हें काफी पैसा मिलेगा इस तरह से जहाँ इस काले कारोबार से इस देश की युवा पीढ़ी को काफी नुकसान हो रहा है वहीँ इस तरह का काम करने वाले लोगों तक पुलिस नहीं पहुँच पा रही है.कोलकाता और दिल्ली के बीच मैच के बाद खुला राज, सट्टेबाजी के बीच खेला गया यह मैच, पकड़े गये अपराधी

दो आईपीएल टीम इस वजह से हो चुकी है निलम्बित

आईपीएल में सट्टेबाजी के कारण दो टीम चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रोयल्स को दो साल के लिए आईपीएल खेलने पर प्रतिबन्ध तक लग चुका है, जहाँ राजस्थान टीम की सह मालिक और बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी और राज कुंद्रा तक इस गलत काम के कारण फस चुके है वहीँ उस समय के वर्तमान बीसीसीआई के अध्यछ एन. श्रीनिवासन को भी सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें अपने पद से त्यागपत्र तक देने का आदेश दे दिया था, इसके आलावा एन श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मइयप्प्न और विन्दु दारा सिंह को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया था क्योकि उनके संबध बुकि के साथ निकल आये थे.पुणे और कोलकाता के बीच होने वाले अहम मुकाबले में इन 6 खिलाड़ियों से होगी दोनों टीमों को बहुत उम्मीदें

आईपीएल के दौरान अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ी भी इस गलत काम को करते हुए पकड़ें गए है

2013 के आईपीएल सीजन के दौरान राजस्थान रोयल्स से खेलने वाले भारत के पूर्व टेस्ट गेंदबाज एस श्रीसंत को स्पॉट फिक्सिंग में फस चुके है जिसके बाद पूरे क्रिकेट जगत को काफी झटका लगा था वहीँ इसके अलावा अजित चंडीला और अंकित चौहान भी इस काम के कारण अरेस्ट किया जा चुका है.

क्या है हाल का मामला

अभी हाल में ही दिल्ली की पुलिस ने छः लोगों को शाहदरा से मैच में सट्टेबाजी करते हुए गिरफ्तार किया है जिनके पास से पुलिस ने दो लेपटॉप 20 मोबाइल फोन बरामद किये है इसके आलवा मौके से एक एलसीडी टीवी भी सीज कर दी गयी है दिल्ली पुलिस का इस तरह के काम पर जीरो टोलरेंस का रुल है फिर भी इस तरह के गलत कार्य बंद नहीं हो पा रहे है.

काली कमाई को मिलता है बढ़ावा

आईपीएल के दौरान काफी सारी काली कमाई पैदा होती है, एक अनुमान के मुताबिक इस सीजन लगभग 30000 करोड़ का कारोबार हो चुका है जो की पूरी तरह से काली कमाई है इस पर रोक लागने के लिए अभी तक जितने भी उपाय किये गये वह इस काले करोबार को नहीं रोक सके है.