हार के बाद रोते हुये डिविलियर्स ने दिया बड़ा बयान

हाल ही में हुए विश्वकप 2015 के सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका की न्यूजीलैंड के हाथों हार को एबीडिविलियर्स बिलकुल भी बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं. उनका दुख संवाददाता सम्मेलन में पूरी तरह से खुलकरसामने आया, जब सबके सवालों के जवाब देते हुए वे अपने आंसुओं की धारा को रोक नहीं पा रहे थे डिविलियर्सजब सब के सवालों का जवाब दे रहे थे तब उनकी आवाज रुंध गयी. अपने आंसू पोंछने और छुपाने के लिए बीच में वह चुपभी रहे. उनसे सवाल में ये जवाब माँगा गया की वो हार के बाद की भावनाओं को व्यक्त करे .

आखिर में उनसे एस तरह का सवाल पूछा गया कि क्रिकेट मैदान पर पहली बार वह इतना बुरा महसूस क्या कर रहेथे और उन्होंने एक शब्द में जवाब दिया, हां मैं कर रहा था  . इस एक शब्द ने उनका दिल के सारे दर्द बयां करदिया था. और ये उनकी जिंदगी का सायद बहूत ख़राब सम य था यह दक्षिण अफ्रीकी कप्तान के रूप में डिविलियर्स के कैरियर का सबसे बुरावक्त था. उन्हें अपनी टीम पर आँख बंद करके पूरा भरोसा था कि उनकी टीम किसी भी परिस्थिति में जीत अपने नाम करेगी  लेकिन उनकी उम्मीदें टूट गयी.

 डिविलियर्स से पूछा गया कि क्या उन्हें बेहतर महसूस करने में कितना  समय लगेगा, आखिरवह एक शानदार मैच का हिस्सा रह चुके है , उन्होंने कहा, इस मैच को लेकर मैं बेहतर महसूसनहीं कर सकताये मेरे लिए नामुमकिन के बराबर है . मेरा लक्ष्य सिर्फ एक ही था क्रिकेट का मैच जीतना, अपने देश को खिताब दिलाना तथा देशके लोगों और उनकी उम्मीदों पर खरा उतरना था लेकिन अफ़सोस  हम ऐसा नहीं कर पाये और इससे दिल को दुखहोता है. मैं बहुत दुखी और सच में परेशान भी हूं. हमारे पास बहूत अच्छे मौके थे और हमने उनका फायदा नहीं उठाया.  उन्होंने कहा, स्वदेश में बहुत से लोगों ने हमारा समर्थन किया हमारे साथ अपनी उम्मीद बाँधी . हम सब उनकेउम्मीद के बारे में सोच रहे हैं और यह बहुत बुरा है. हम यह ट्रॉफी सच  में जीतना चाहते थे कुछ भी हो जिंदगी किसी के बिना रूकती नहीं है लेकिनजिंदगी चलती रहेगी. सूरज कल भी उगेगा.  और जिंदगी में दक्षिण अफ्रीका के पास जीत के कुछ अच्छेमौके थे

Related Topics