देवदत्त पडिक्‍कल उस खिलाड़ी को मानते हैं अपना आदर्श जिससे कप्तान विराट कोहली का है 36 का आंकड़ा 1

देवदत्त पडिक्कल पिछले काफी समय से यह नाम भारतीय क्रिकेट में गूंज रहा है. घरेलू क्रिकेट में दमदार प्रदर्शन करने वाले देवदत्त पडिक्कल आईपीएल शुरू होने ठीक पहले करोना संक्रमित पाए गए हैं. फिल्हाल वो अपना वक्त क्‍वारंटीन होकर बिता रहे हैं. क्‍वारंटीन होने के बावजूद देवदत्त पडिक्कल एक ऐसे खिलाड़ी के नाम की माला जप रहे हैं, जिसका उनके कप्तान विराट कोहली से मैदान में झगड़ा हुआ था.

देवदत्‍त पडिक्‍कल गौतम गंभीर को मानते हैं अपना रोल मॉडल

देवदत्‍त पडिक्‍कल

देवदत्त पडिक्कल भी हर युवा खिलाड़ी की तरह किसी को अपना आदर्श मानते हैं. टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार कर्नाटक का ये 21 वर्षीय प्रतिभाशाली बल्लेबाज पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर को अपना आदर्श मानते हैं.

जानकारी के मुताबिक जब देवदत्त पडिक्कल से यह पूछ गया कि वो किस बल्लेबाज को सबसे ज्यादा पसंद करते हैं तो इस पर उनका कहना था कि वैसे तो बहुत अच्छे बल्लेबाज हैं और सभी की अपनी एक अलग कहानी है, लेकिन जब बात रोल मॉडल की हो तो वो मेरे लिए गौतम गंभीर हैं. युवा बल्लेबाज का कहना है कि वो गौतम के वीडियो देखते हैं और उन्हीं की तरह बनना चाहते हैं.

विराट कोहली से है गौतम गंभीर का छत्तीस का आंकड़ा

देवदत्त पडिक्‍कल उस खिलाड़ी को मानते हैं अपना आदर्श जिससे कप्तान विराट कोहली का है 36 का आंकड़ा 2

आईपीएल में देवदत्त पडिक्कल आरसीबी का प्रतिनिधित्व करते हैं जिसके कप्तान विराट कोहली हैं. सबसे दिलचस्प बात यह है कि पडिक्‍कल ने उस खिलाड़ी को अपना आदर्श बताया है जिसका विराट कोहली से कभी मैदान में झगड़ा हुआ था.

यह बात साल 2013 में आईपीएल के छठे सीजन की है जब मैच के दौरान आरसीबी के कप्तान विराट कोहली और केकेआर के कप्तान गौतम गंभीर मैदान पर किसी बात को लोकर आपस में भिड़ गए थे. तब दोनों टीम के खिलाड़ियों ने बीच-बचाव किया था.

देवदत्त पडिक्कल ने विजय हजारे ट्रॉफी में लगाया है रनों का अंबार

देवदत्‍त पडिक्‍कल

इस साल की शुरुआत में खेली गई विजय हजारे ट्रॉफी में देवदत्त पडिक्कल ने 147.40 के जबरदस्‍त औसत से 737 रन बनाए थे. ये रन उन्‍होंने सात मुकाबलों में बनाए. इन सात मुकाबलों में उन्‍होंने लगातार चार शतक जड़े तो बाकी के तीन मैचों में तीन अर्धशतक भी उनके बल्‍ले से निकले थे.

आईपीएल के पिछले सीजन में भी उन्होंने बेहतरीन बल्लेबाजी की थी मगर करोना संक्रमित होने के चलते वो शुरूआती मैचों में आरसीबी का हिस्सा नहीं होंगे.