रियल है एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी फ़िल्म के 18 डायलॉग 1

भारत के सफलतम महेंद्र सिंह धोनी के जीवन पर आधारित फिल्मम, एम एस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी 30 सितम्बर को सिनेमाघरों में रिलीज़ हुई. इस फिल्म में धोनी के बचपन से लेकर उनके क्रिकेट विश्वकप विजेता बनने तक के संघर्ष को दिखाया गया है. फ़िल्म के ज्यादातर डायलॉग असली नहीं है, लेकिन आपको पता है इस फ़िल्म के मशहुर 18 डायलॉग रियल हैं? . फ़िल्म में दिखाए गए 18 रियल डायलॉग पर एक नज़र:-

1) धोनी अपने सर को : ‘हमको एक चांस दीजिए न सर’

यह भी पढ़े : महेंद्र सिंह धोनी के भाई का उनकी बायोपिक में न होने पर आया बड़ा बयान कहा

2) धोनी की माँ : ‘हमारा मन कहता है, यह थोड़े में से खुश होने वालो में से नहीं है’

3) धोनी का दोस्त परमजीत: ‘धोनी कोई तेंदुलकर है?, नहीं पाजी… धोनी धोनी हैं. एक बार उस लड़के को मौका मिल गया ना.. तो वह बहुत आगे तक जायेगा’.

4) धोनी अपने पिताजी से: ‘उधर खड़कपुर में जॉब की सिक्यूरिटी में पैसा फंस गया न बाबा.. तो हम आगे कुछ नही कर पायेगे’.

5) रेलवे अधिकारी एके गांगुली, धोनी से: ‘ड्यूटी के बाद रोज़ प्रैक्टिस.. जितना ड्यूटी उतना प्रैक्टिस’.

6) धोनी और कोच बैनर्जी सर: ‘क्रिकेट खेलेगा? …सर हमको बैटिंग ज्यादा अच्छा लगता है.. पहले विकेटकीपिंग पर ध्यान दो तुम, समझे’.

7) चयनकर्ता: ‘ये आज इन तीनो को निकालकर रुकने वाला नहीं है’.

8) ‘जो धोनी को प्रोमोट करता है, ‘धोनी आज उसी को बाहर करना चाहता हैं’.

रियल है एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी फ़िल्म के 18 डायलॉग 2

यह भी पढ़े : झारखंड क्रिकेट बोर्ड ने किया महेंद्र सिंह धोनी जैसे दिग्गज खिलाड़ी का अपमान

9) धोनी अपने कोच से: ‘3 बॉल कीपिंग के लिए बुलाया और के ओवर बैटिंग दिया.. सिर्फ हमारे साथ ऐसा किया.. हमसे कुछ खास लगाव है’.

10) धोनी, एके गांगुली से: ‘सर हम सोच रहे थे कि हम क्या कर रहे है.. हम एक क्रिकेटर है.. लेकिन टीसी की काम कर रहे है’.

11) धोनी, एके गांगुली से: ‘गेट नंबर 3 के सामने खड़े होकर रोज़ फाइल इकठ्ठा करते हैं. ना तो हमारे गेम इम्प्रूव हो रहा है, ना कोई मौका मिल रहा है.. कब तक और कैसे चलेगा सर’.

12) स्कूल का बच्चा: ‘माही मार रहा है’.

13) धोनी के सर: ‘ये धोनी का गेम दिल-प्रतिदिन बड़ा होता जा रहा हैं’.

14) धोनी के पिता जी धोनी से: ‘अरे एग्जाम तो दोगे तुम? पास जितना मार्क्स तो हो जाएगा’.

15) ‘अरे ये कौन से जीनियस लोग है, जिन्हें सिर्फ 3 बॉल में ही प्लेयर का पोटेंशियल पता चल जाता है’.

16) रेलवे अधिकारी धोनी के पिताजी से: ‘1500 का स्टायफंड है.. आज तक किसी भी नए प्लेयर को इतना नहीं मिला जितना माही को मिलेगा’

17) धोनी अपने कोच बैनर्जी सर से: ‘सर आप बोलो तो आज ओपन करें? .. अगले मैच में देखेगे. सर, कमजोर टीम के साथ स्कोर करके क्या मिलेगा’.

18) धोनी के पिताजी, धोनी से: ‘खेल अपनी जगह है, लेकिन पढ़ोगे-लिखोगे तो किसी लायक बनोगे’.

I am Gautam Kumar a Cricket Adict, Always Willing to Write Cricket Article. Virat and Rohit are My Favourite Indian Player.