इस वजह से भुवनेश्वर कुमार से पहले उमेश यादव को दिया गया मौका

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भुवनेश्वर कुमार को क्यों नहीं मिला जसप्रीत बुमराह की जगह टेस्ट टीम में मौका? वजह आया सामने 

भुवनेश्वर कुमार को क्यों नहीं मिला जसप्रीत बुमराह की जगह टेस्ट टीम में मौका? वजह आया सामने

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट मैच 2 अक्टूबर से शुरू हो रहा है. इस टेस्ट सीरीज से पहले भारतीय टीम को एक बड़ा झटका लगा है. तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह चोट के चलते भारतीय टीम से बाहर हो गए हैं. यह टेस्ट सीरीज चैंपियनशिप के लिए है. ऐसे में भारतीय टीम के लिए यह एक बड़ा झटका है.

भुवनेश्वर नहीं, उमेश को दिया गया मौका

भुवनेश्वर कुमार को क्यों नहीं मिला जसप्रीत बुमराह की जगह टेस्ट टीम में मौका? वजह आया सामने 1

भारतीय टीम के चयनकर्ताओं ने चोटिल जसप्रीत बुमराह की जगह भुवनेश्वर कुमार को नहीं, बल्कि तेज गेंदबाज उमेश यादव को टीम में मौका दिया गया है. कुछ क्रिकेट प्रशंसक इस बात से काफी हैरान है, कि भुवनेश्वर कुमार को आखिर क्यों टेस्ट टीम में जगह नहीं मिल रही है.

बता दें, कि भुवनेश्वर कुमार पिछले काफी समय से टेस्ट क्रिकेट नहीं खेल पा रहे हैं. उन्होने अपना अंतिम टेस्ट मैच साउथ अफ्रीका के खिलाफ साल 2018 में खेला था.

उमेश का पिछला प्रदर्शन, भुवनेश्वर पर पड़ा भारी

भुवनेश्वर कुमार को क्यों नहीं मिला जसप्रीत बुमराह की जगह टेस्ट टीम में मौका? वजह आया सामने 2

आपकों बता दें, कि भारत की धरती पर भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव का रिकॉर्ड लगभग एक जैसा है. भुवनेश्वर कुमार ने भारत के लिए घरेलू धरती पर 11 टेस्ट मैचों में 26.22 की औसत से 27 विकेट हासिल किये हैं. वहीं उमेश यादव ने भारत के लिए घरेलू धरती पर  24 टेस्ट मैचों 27.97 की औसत से 73 विकेट हासिल किये हैं, लेकिन उमेश यादव ने जब भारत की धरती पर पिछले साल वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेली थी, तो उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया था.

वेस्टइंडीज के खिलाफ 2018 की सीरीज में उमेश यादव ने हैदराबाद टेस्ट मैच में कुल 10 विकेट हासिल किये थे. शायद भारत की धरती पर उनके इसी प्रदर्शन को देखते हुए भुवनेश्वर कुमार से पहले उन्हें प्राथमिकता दी गई है.

रिवर्स स्विंग में माहिर और लम्बे स्पैल की काबिलियत

रहाणे

भारत की पिचों पर पुराना गेंद रिवर्स स्विंग करता है, इस बात को भी ध्यान में रखते हुए भुवी से पहले उमेश को चुना गया है. दरअसल, उमेश यादव गेंद को रिवर्स स्विंग कराने में माहिर है. साथ ही वह अपनी अच्छी फिटनेस के चलते लम्बे स्पैल करने की भी क़ाबलियत रखते है.

Related posts