डरबन टेस्ट : द. अफ्रीका पर सीरीज जीत बरकरार रखना चाहेगी आस्ट्रेलिया

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

डरबन टेस्ट : द. अफ्रीका पर सीरीज जीत बरकरार रखना चाहेगी आस्ट्रेलिया 

डरबन टेस्ट : द. अफ्रीका पर सीरीज जीत बरकरार रखना चाहेगी आस्ट्रेलिया

डरबन, 1 मार्च; स्टीव स्मिथ की कप्तानी में आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम गुरुवार से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच में जीत के इरादे से उतरेगी। आस्ट्रेलिया ने 1970 के बाद से एक भी बार दक्षिण अफ्रीका में खेली गई सीरीज में हार नहीं झेली और वह इस क्रम को इस सीरीज में भी बरकरार रखना चाहेगी।

आस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच होने वाली चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच गुरुवार से किंग्समीड क्रिकेट मैदान पर खेला जाएगा, जो पांच मार्च को समाप्त होगा।

रिकी पॉन्टिंग की कप्तानी में 2005-06 के बाद से आस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरीज में जीत के सिलसिले को शुरू किया और यह रिकॉर्ड 16 मैचों तक कायम रहा। ऐसे में फाफ डु प्लेसिस की टीम दक्षिण अफ्रीका का लक्ष्य आस्ट्रेलिया के इस विजय पथ पर रोक लगाना होगा।

दक्षिण अफ्रीका वर्तमान में टेस्ट टीमों की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर है। उसके पास अनुभवी खिलाड़ियों की कमी नहीं है। अब्राहम डिविलियर्स और हाशिम अमला जैसे बल्लेबाज दोनों ही टेस्ट प्रारूप में 8,000 रन पूरे कर चुके हैं। इसमें प्लेसिस और डीन एल्गर टीम को मजबूत स्कोर खड़ा करने में सहायता दे सकते हैं।

जहां तक गेंदबाजों की बात है, तो मोर्ने मोर्केल टेस्ट क्रिकेट में 300 विकेट पूरे करने के बेहद करीब हैं और इस सीरीज में वह यह उपलब्धि हासिल कर सकते हैं। उन्होंने अब तक खेले गए 83 मैचों में 294 विकेट लिए हैं और ऐसे में उन्हें 300 की श्रेणी में शामिल होने के लिए छह विकेट लेने की जरूरत है। इसके अलावा, कगीसो रबाडा भी शानदार फॉर्म में चल रहे हैं।

आस्ट्रेलिया टीम पर नजर डाली जाए, तो स्वयं उसके कप्तान स्मिथ टेस्ट रैंकिंग में पहले स्थान पर हैं। स्मिथ अच्छी फॉर्म में हैं। वहीं, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली गई पिछली तीन सीरीज में डेविड वॉर्नर ने तीन शतक लगाए हैं। इसके अलावा, कैमरून बैंक्रॉफ्ट, उस्मान ख्वाजा और शॉन मार्श भी टीम के लिए अच्छा स्कोर बना सकते हैं।

गेंदबाजी की बात की जाए, तो मिशेल स्टॉर्क, जोश हाजलेवुड और पैट कमिंस आस्ट्रेलिया के बेहतरीन गेंदबाजों में से एक हैं। इसके अलावा, नाथन ल्योन भी अच्छे गेंदबाज हैं, जो धीमी पिचों में अपनी टीम के लिए अहम साबित होते हैं।

टीमें (संभावित) :-

दक्षिण अफ्रीका : फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), डीन एल्गर, एडिन मार्कराम, हाशिम अमला, अब्राहम डिविलियर्स, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), वर्नोन फिलेंडर, केशव महाराज, कगीसो रबाडा, मोर्ने मोर्केल, लुंगी नगीदी और टेम्बा बावुमा। 

आस्ट्रेलिया : स्टीव स्मिथ (कप्तान), कैमरून बैंक्रॉफ्ट, डेविड वॉर्नर, उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, मिशेल मार्श, टिम पेने (विकेटकीपर), मिशेल स्टॉर्क, पैट कमिंस, जोश हाजलेवुड, नाथन ल्योन, पीटर हैंड्सकॉम्ब और झे रिचर्डसन। 

Related posts

Leave a Reply