चेन्नई टेस्ट से ठीक 2 दिन पहले भारतीय टीम के लिए आई बुरी खबर 1

भारत और इंग्लैंड के बीच खेला जाने वाला पांचवा और आखिरी टेस्ट मैच चेन्नई में शुक्रवार से खेला जाना है. मैच से ठीक चार दिन पहले वहाँ पर आये चक्रवात ने दोनों टीमों की अभ्यास की योजना पर पानी फेर दिया है.

एक समय तो लग रहा था कि वरदा तूफ़ान के कारण पांचवा टेस्ट मैच होगा ही नही, लेकिन चेन्नई क्रिकेट असोसिएशन ने पिच और मौसम को देखते हुए यह जानकरी दी और बताया कि इस तूफान का असर टेस्ट मैच पर नही पड़ेगा.

दो दिन के बाद 16 दिसम्बर से आखिरी टेस्ट मैच होना है. भारतीय टीम पहले ही इस सीरीज में 3-0 से अजेय बढ़त बना चुकी है और उसे बस एक औपचारिक रूप के कारण यह मैच खेलना है, लेकिन इंग्लैंड की टीम अपना आत्मसम्मान बचाने के लिए खेलेगा.

यह भी पढ़े : चेन्नई टेस्ट : वर्धा तूफ़ान के कारण मुश्किल में आखिरी टेस्ट मैच

इंग्लिश टीम अभी सीरीज में एक भी मैच नही जीत पाई है, जिसके चलते अगर वह आखिरी मैच जीत जाती है तो उसका आत्मविश्वास वापस आ जायेगा और आने वाली वनडे सीरीज के लिए उनके खिलाड़ियों को मानसिक बढ़त मिलेगी.

चेन्नई टेस्ट से ठीक 2 दिन पहले भारतीय टीम के लिए आई बुरी खबर 2

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ पनीर सेलवम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से तूफान के चलते वहाँ के लोगों के लिए 1000 करोड़ रुपए की नेशनल डिजास्टर के जरिए देने की मांग भी की. जिससे तूफान से जो नुकसान और बर्बादी हुई है जल्द से जल्द सरकार इस चीज की भरपाई कर सके और लोगों की मदद कर सके.

यह भी पढ़े: भारत बनाम इंग्लैंड : विडियो : कोहली ने खोला अश्विन और एंडरसन विवाद का सच

तमिलनाडु क्रिकेट असोसिएशन के सिक्रेटरी काशी विश्वनाथन ने PTI से प्रेस वार्ता के दौरान कहा,

” वरदा तूफ़ान के चलते मैदान पर तो कोई असर नही पड़ा है, लेकिन साइड स्क्रीन टूट गयी है. बल्ब जो जल रहे थे, वह भी इसका शिकार हो गए हैं. स्टेडियम के बाहर 100 से ज्यादा पेड़ भी गिरे पड़े हैं, लेकिन हम अगले दो दिनों में सब सही कर देंगे और मैदान पर कोई परेशानी नहीं होगी.”

इस तूफ़ान के चलते अब दोनों टीमे बिना अभ्यास के मैच खेलने उतरेंगी.