रवि शास्त्री और विराट कोहली ही नहीं ECB के अधिकारियों ने भी तोड़ा था नियम, सभी ते बुक लांच का हिस्सा 1

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली गई गई पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का अंतिम मुकाबला भारतीय खेमे में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों के चलते रद्द करना पड़ा. इसी वजह से बीसीसीआई और इंग्लैंड क्रिकेट ने आपसी सहमति से मैनचेस्टर में होने वाले सीरीज के आखिरी मुकाबले को रद करने का फैसला लिया है. इसी बीच अब सीरीज के इस अंतिम मुकाबले को किसी और तारीख पर कराए जाने का फैसला लिया गया है. इसी दौरान सीरीज के आखिरी मुकाबले के रद्द हो जाने की वजह से फेंस और एक्सपर्ट्स की ओर से अलग अलग प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं जिसकी वजह से एक बड़ा विवाद होता भी नज़र आ रहा है.

भारतीय खेमे में बढे कोरोना के मामले

रवि शास्त्री और विराट कोहली ही नहीं ECB के अधिकारियों ने भी तोड़ा था नियम, सभी ते बुक लांच का हिस्सा 2

चौथे टेस्ट मैच से पहले ही भारतीय टीम के हेड कोच रवि शास्त्री और सपोर्ट स्टाफ के अन्य सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. इसके तुरन्त बाद सीरीज के आखिरी मुकाबले से पहले सभी को आइसोलेशन में भेज दिया गया था. लेकिन मैनचेस्टर टेस्ट से एक दिन पहले भारत के सहायक फीजियो योगेश परमार की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद स्तिथि और बिगड़ गई, ऐसे में आखिरकार मैच को रद्द करने का ही फैसला लिया गया.

बुक लांच पर मौजूद थे टॉम हैरिसन

रवि शास्त्री और विराट कोहली ही नहीं ECB के अधिकारियों ने भी तोड़ा था नियम, सभी ते बुक लांच का हिस्सा 3

दरअसल ईसीबी के मुख्य कार्यकारी टॉम हैरिसन भी रवि शास्त्री की नई किताब के लांच कार्यक्रम में मौजूद थे. बता दें कि ये कार्यक्रम भारतीय टीम के हेड कोच रवि शास्त्री के कोविड पॉजिटिव पाए जाने के कुछ दिन पहले ही हुआ था. इस बारे में पता चला है कि हैरिसन को शास्त्री और बीसीसीआई की ओर से लांच में आने का निमंत्रण मिला था और उन्होंने खाने-पीने को छोड़कर पूरे कार्यक्रम के दौरान मास्क पहना हुआ था. उन्होंने कार्यकम में जाने से पहले अतिथियों की सूची नहीं दखी थी और उन्होंने ईसीबी द्वारा दोनों टीमों के लिए सुरक्षित रहने के दिशानिर्देशों के अनुरूप एक कोविड-सुरक्षित घटना की उम्मीद की थी.