भारत बनाम वेस्टइंडीज टी-ट्वेंटी, फ्लोरिडा : पहले टी-ट्वेंटी में हुई रिकार्ड्स की बारिश | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

एडिटर च्वाइस

भारत बनाम वेस्टइंडीज टी-ट्वेंटी, फ्लोरिडा : पहले टी-ट्वेंटी में हुई रिकार्ड्स की बारिश 

भारत बनाम वेस्टइंडीज टी-ट्वेंटी, फ्लोरिडा : पहले टी-ट्वेंटी में हुई रिकार्ड्स की बारिश

भारत बनाम वेस्टइंडीज 2 मैचो की टी-ट्वेंटी सीरीज के पहले मैच में विश्व चैंपियन वेस्टइंडीज ने भारत को 1 रन से हरा दिया. सेंट्रल ब्रोवार्ड रिजनल पार्क, फ्लोरिडा स्टेडियम में खेले गए पहले टी-ट्वेंटी में भारतीय कप्तान धोनी ने टॉस जीतकर वेस्टइंडीज को बल्लेबाजी के न्योता दिया. वेस्टइंडीज की टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में एविन लेविस के शानदार शतक और जॉनसन चार्ल्स की 79 रनों की तूफानी पारी की मदद से भारत को 246 रनों लक्ष्य दिया. जिसके जवाब में भारतीय टीम 20 ओवरों में 4 विकेट खोकर 244 रन ही बना पाई, और मैच 1 रन से हार गई. लोकेश राहुल ने शानदार 110 रनों की नाबाद पारी खेली.

यह भी पढ़े : मैच के बाद बोले धोनी, आख़िरी गेंद पर मुझसे हुई चूक

फ्लोरिडा में खेले गए मैच में वेस्टइंडीज और भारत के बल्लेबाजों ने छक्को-चौक्को की बारिश की झड़ी लगा दी, और रिकॉर्ड रन बनाये. पहले टी-ट्वेंटी में कुछ महत्वपूर्ण रिकार्ड्स पर एक नज़र:-

1) भारतीय कप्तान एमएस धोनी अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा मैचो में कप्तानी करने वाले खिलाड़ी बन गए हैं. वेस्टइंडीज के विरुद्ध पहला टी-ट्वेंटी मैच धोनी का एक कप्तान के तौर पर 325वा मैच रहा, इस से पहले यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग के नाम था, पोंटिंग ने 324 मैचो में ऑस्ट्रेलिया टीम की कप्तानी किया.

2) पहले टी-ट्वेंटी के दौरान दोनों टीमो ने मिलकर 489 रन बनाये, किसी एक टी-ट्वेंटी मैच में यह सबसे ज्यादा रन हैं. इससे पहले आईपीएल मैच के दौरान चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स ने वर्ष 2010 में 469 रन बनाये थे.

3) (i) वेस्टइंडीज ने मैच में 245 रन बनाये, यह अन्तराष्ट्रीय टी-ट्वेंटी मैच में तीसरा सबसे बड़ा स्कोर रहा. इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने 2013 में इंग्लैंड के विरुद्ध 248 रन बनाये थे, जबकि टी-ट्वेंटी क्रिकेट में एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने के रिकॉर्ड श्रीलंका के नाम हैं. श्रीलंका ने वर्ष 2007 केन्या के विरुद्ध 260 रन बनाये थे.
(ii) भारत ने वेस्टइंडीज के 245 रनों के जवाब में 244 रन बनाये, यह टी-ट्वेंटी क्रिकेट चौथा और भारत का सबसे बड़ा स्कोर रहा.

यह भी पढ़े : पहला टी-20 : खून जमा देने वाले अंदाज में समाप्त हुआ मैच

4) (i) भारत के बल्लेबाज़ लोकेश राहुल ने मैच में 46 गेंदों पर शतक लगाया, यह अन्तराष्ट्रीय टी-ट्वेंटी क्रिकेट का दूसरा सबसे तेज शतक रहा, सबसे तेज शतक मारने का रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के रिचर्ड लेवी (45) के नाम हैं.

(ii) राहुल से पहले वेस्टइंडीज के बल्लेबाज़ एविन लेविस ने 48 गेंदों पर शतक लगाया, यह अन्तराष्ट्रीय टी-ट्वेंटी क्रिकेट का 5वा सबसे तेज शतक हैं.

5) मैच में भारत के गेंदबाज़ स्टुअर्ट बिन्नी ने एक ओवर 32 रन दिए, यह अन्तराष्ट्रीय टी-ट्वेंटी क्रिकेट में संयुक्त  रूप से दूसरा सबसे बड़ा ओवर हैं. एक ओवर में सबसे ज्यादा रन देने के रिकॉर्ड इंग्लैंड के गेंदबाज़ स्टुअर्ट ब्रोड (36) के नाम हैं.

6) अन्तराष्ट्रीय टी-ट्वेंटी क्रिकेट में यह 10वा मौका था, जब कोई टीम 1 रन से मैच हारी हो, जबकि भारत दूसरी बार 1 रन से मैच हारी हैं. इस मैच से पहले भारत की वर्ष 2012 में चेन्नई के मैदान पर न्यूज़ीलैण्ड करे विरुद्ध 1 रन से मैच हारी थी.

यह भी पढ़े : भारत हारा फिर भी रिकॉर्ड बना गये महेंद्र सिंह धोनी

7) (i) भारत के बल्लेबाज़ लोकेश राहुल अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनो फॉर्मेट में छक्का मारकर शतक पूरा करने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं.

(ii) लोकेश राहुल अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में तीनो फॉर्मेट में सबसे कम पारियों में शतक जड़ने वाले खिलाड़ी बन गए. राहुल ने यह कारनामा 20 पारियों में किया.

8) मैच में वेस्टइंडीज (21) और भारत (11) ने कुल 32 छक्के लगाये, यह एक अन्तराष्ट्रीय टी-ट्वेंटी मैच में रिकॉर्ड है. इससे पहले यह आयरलैंड बनाम नीदरलैंड (वर्ष 2014 टी-ट्वेंटी विश्वकप) के नाम था.

9) मैच में वेस्टइंडीज टीम में 7.4 ओवरों में 100 रन बनाये, यह अन्तराष्ट्रीय टी-ट्वेंटी क्रिकेट में वेस्टइंडीज का  दूसरा सबसे तेज 100 हैं. इससे से पहले दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध वर्ष 2014-15 में जोहान्सबर्ग के मैदान पर वेस्टइंडीज ने 7.3 ओवरों में 100 रन बनाये थे.

यह भी पढ़े : बीसीसीआई ने अमेरिका में चुना नया टी-20 कप्तान

10) मैच में वेस्टइंडीज ने पहले 10 ओवरों में 132 रन बनाये जोकि अन्तराष्ट्रीय टी-ट्वेंटी क्रिकेट में रिकॉर्ड है. इससे पहले यह रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के नाम था, दक्षिण अफ्रीका ने वर्ष 2009 इंग्लैंड के विरुद्ध 131 रन बनाये थे.

Related posts

Comments are closed.