इंग्लैंड के कोच भी हुए भारतीय टीम के गेंदबाजी के मुरीद, बताया दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण 1

नॉटिंघम टेस्ट मैच में भारतीय टीम की पांच मैचों की टेस्ट सीरीज की शानदार शुरुआत हुई। मेजबान टीम इंग्लैंड नॉटिंघम टेस्ट मैच के पहले दिन के खेल में मात्र 183 रन बना कर सिमट गई। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर ट्रेंट ब्रिज की ग्रीन टॉप विकेट पर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। यह फैसला इंग्लैंड के लिए उल्टा साबित हुआ क्युकी इंग्लैंड के बल्लेबाजों के पास भारत की सटीक गेंदबाजी का कोई जवाब नहीं था ।

पहले दिन के खेल के अंत में इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी और मौजूदा बल्लेबाजी कोच मार्कस ट्रेस्कोथिक ने मीडिया से बातें की। इस बातचीत के दौरान इंग्लैंड के बल्लेबाजी कोच ने भारतीय गेंदबाजों के प्रदर्शन की तारीफ की और उन्हें विश्व क्रिकेट में ‘ सबसे शक्तिशाली ‘ भी कहा।

इंग्लैंड के कोच भी हुए भारतीय टीम के गेंदबाजी के मुरीद, बताया दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण 2

भारत ने नॉटिंघम के पहले टेस्ट के में मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर के रूप में चार तेज़ गेंदबाजों के साथ उतरने का निश्चय किया।

ट्रेस्कोथिक ने आगे कहा कि भारत के शानदार गेंदबाजी प्रदर्शन के चलते ही भारत पिछले कुछ समय से टेस्ट क्रिकेट में सफल रहा है। इंग्लैंड के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलियाई दौरे का उदाहरण भी दिया जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया में लगातार दूसरी टेस्ट सीरीज जीती थी। ट्रेस्कोथिक ने कहा कि उनको भारत के इस प्रदर्शन को देख कर बिल्कुल भी आश्चर्य नहीं हुआ।

ट्रेस्कोथिक ने आगे कहा कि टेस्ट का पहला दिन इंग्लैंड की सोच के अनुसार नहीं गुज़रा और इस बात को लेकर टीम में जरूर चर्चा होगी । उन्होंने आगे कहा कि अभी पूरा टेस्ट मैच बाकी है और उसके बाद चार और टेस्ट मैच खेले जाने हैं और उनको विश्वास है कि इंग्लिश टीम आगे के खेल में जरूरत मजबूती से वापसी करेगी ।